जागरण संवाददाता, धनबाद। आइएएस अधिकारी सह झारखंड के उच्च शिक्षा निदेशक अबु इमरान के घर पर गैंग्स आफ वासेपुर के एक गुट ने गुरुवार की रात साढ़े आठ बजे हमला बोल दिया। उनके घर पर करीब दस लोग आ धमके। अबु इमरान के तीन भाइयों को बुरी तरह पीटा। पिटाई से अबु तारीख और अनीसुर रहमान का सिर फट गया, जबकि छोटे भाई मो. बाबर का पैर टूट गया। अबु तारीख पर पिस्टल से दो फायरिंग भी की गई। वारदात को लेकर भूली ओपी में पप्पू पाचक के भाई और भांजे के खिलाफ शिकायत की गई है। अबु तारीख ने बताया कि रात करीब साढ़े आठ बजे वे और उनके भाई भूली ओवरब्रिज स्थित आवास के समक्ष अपने कार्यालय में बैठे हुए थे।

इसी दौरान पप्पू पाचक का भांजा दानिश व उसके भाई करीब दस लोगों के साथ आ धमके। इनके हाथ में तेजधार वाले हथियार के अलावा पिस्टल भी थे। तारीख के मुताबिक उक्त लोग पूर्व से सत्तर हजार रुपये की रंगदारी मांग रहे थे, मांग पूरी नहीं करने पर हमला किया गया है। हमलावरों ने उनके कार्यालय में तोड़फोड़ मचाते हुए सभी भाइयों को पीटना शुरू कर दिया। गल्ले में रखा करीब साठ से सत्तर हजार रुपये भी उक्त लोगों ने निकाल लिया।

मारपीट के क्रम में ही एक ने पिस्टल निकाल ली और फायर करने लगा। तभी तारीख ने उसके पिस्टल को पकड़ लिया। फाय¨रग की आवाज सुनकर आसपास के लोगों का जुटान होने लगा तो हमलावर वहां से निकल गए। इसके बाद अबु तारीख और उनके भाइयों ने भूली ओपी में मामले की शिकायत की है। पुलिस ने जख्मियों को इलाज के लिए पीएमसीएच भेज दिया है।

पप्पू पाचक पर चली थी गोली:

पप्पू पाचक पर 2017 में गोली चली थी। भूली बाइपास की एक जमीन को लेकर विवाद में पप्पू पाचक को पुराना बाजार के पास छह गोलियां मारी गई थी। महीनों तक इलाज चलने के बाद पप्पू पाचक की जान बची। गोली चालन को लेकर फहीम खान के कुनबे पर प्राथमिकी दर्ज हुई थी। पप्पू पाचक का भाई मिस्टर खान पूर्व में झाविमो में शामिल था।