धनबाद, जेएनएन। पीएमसीएच में कोरोना टास्क फोर्स की बैठक मंगलवार को प्राचार्य डॉ. शैलेंद्र कुमार की अध्यक्षता में हुई। बैठक में कहा कि स्थिति को देखते हुए फिलहाल सभी डॉक्टरों व कर्मचारियों की ड्यूटी अनिवार्य कर दी गई है। ऐसे में कोई डॉक्टर या कर्मचारी बिना बताए अपने कार्य क्षेत्र से बाहर रहते हैं उनके विरूद्ध एफआआर दर्ज की जाएगी। जो भी डॉक्टर व कर्मचारी पीएमसीएच में सेवा दे रहे हैं, उनके लिए अलग से प्राचार्य की ओर से पास बनाया जाएगा। इसकी सहायता से ड्यूटी पर आ सकते हैं।

खुद से करें वाहन का इंतजाम : प्राचार्य ने बताया कि डॉक्टर और कर्मचारियों को अपने घर से अस्पताल तक खुद से आना होगा। इसके लिए किसी भी तरह का वाहन एंबुलेंस नहीं भेजा जाएगा। ऐसे में अपने-अपने वाहनों को यहां लाने ले आ जाने के लिए सुनिश्चित करें। इसके लिए प्रबंधन की जवाबदेही नहीं होगी।

बीमार और जरूरतमंद करें आवेदन : प्रसाद ने कहा कि जो कर्मचारी या डॉक्टर बीमार हैं या उम्र ज्यादा हो गया है यदि वह चाहते हैं कि अरे छुट्टी की निशांत आवश्यकता है तो आवेदन करें प्रबंधन ऐसे आवेदनों पर विचार करेगा सरकार ने भी इस तरह का निर्देश दिया है। मौके पर अधीक्षक डॉ. अरुण कुमार चौधरी, डॉ. यूके ओझा, डॉ. डीपी भूषण, अरुण बरनवाल आदि मौजूद थे।

Posted By: Sagar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस