बीएन ठाकुर, कतरास (धनबाद): दुर्गोत्सव के भव्‍य आयोजन के लिए कोयला क्षेत्र कतरास पूरे झारखंड में मशहूर है। देश विदेश की इमारतें और मंदिरों के स्‍वरूप में बनने वाले यहां के पूजा पंडाल और शिल्पकारों द्वारा उसमें उकेरी गई कलाकृतियां लोगों को खूब आकर्षित करती हैं। पूजा के दौरान लगने वाले सप्ताहव्यापी मेले को देखने के देखने के लिए ना सिर्फ झारखंड, बल्कि पड़ोसी राज्यों से भी लोग आते हैं।

कोरोना के साए में गुजरे दो साल के बाद इस बार यहा दुर्गा पूजा के आयोजन को लेकर लोगों में काफी उत्साह देखने को मिल रहा है। पंडालों के निर्माण में लगे कारीगर और पूजा समितियां दिन रात त्योहार की तैयारी में जुटे हैं। पूरे नगर को सजाया जा रहा है। शहर के रानी बाजार, रेलवे इंस्टीट्यूट मैदान, जीएनएम हाई स्कूल मैदान में बड़ा और भव्य पंडाल बनाया जा रहा है, जबकि केशलपुर, नदी किनारे, बंगाल पाड़ा और राजबाड़ी में परंपरागत ढंग से मंदिर में पूजा का आयोजन किया जा रहा है।

जीएनएम हाई स्कूल मैदान में नेपाल की जानकी मंदिर

कतरास बाजार के जीएनएम हाई स्कूल मैदान में नेपाल के जानकी मंदिर के स्‍वरूप में पंडाल बनाया जा रहा है। इसकी चौड़ाई करीब 200 फीट है। सार्वजनिक दुर्गा पूजा समिति के सचिव मुकेश भट्ट ने बताया कि वर्ष 2001 में यहां कम बजट से पूजा शुरू हुई थी, लेकिन आज पूजा का बजट करीब 18 लाख रुपये का है। इस बार जिले का सबसे बड़ा पंडाल बन रहा है। पूजा पंडाल निर्माण का कार्य महावीर डेकोरेटर चिरकुंडा द्वारा किया जा रहा है। 25 मिस्त्री काम को पूरे करने के लिए दिन-रात जुटे हुए हैं। लाइटिंग का काम बाघमारा के लोगों को दिया गया है।

पंडाल के अंदर दुर्गापुर के मशहूर चित्रकार तपन पाल द्वारा उकेरे गए केदारनाथ मंदिर का दृश्य नजर आएगा। सप्तमी के दिन कलश यात्रा हेतु नव पत्रिका जल यात्रा आयोजित होगी, जिसमें सभी माताएं बहनें एवं पूजा समिति के सदस्य एक ही वेशभूषा और पगड़ी में शामिल होंगे। पूजा समिति में मुख्य संयोजक सरोज विश्वकर्मा, अध्यक्ष शंकर जायसवाल, कार्यकारी अध्यक्ष बिनोद रजक, मनोज राय व अशोक शर्मा सह संयोजक पंकज सिन्हा, कोषाध्यक्ष राहुल रजक, वरीय कोषाध्यक्ष शैलेंद्र चौरसिया, उपाध्यक्ष शैलेंद्र सिन्हा, पिंटू दे, सह सचिव संदीप जयसवाल सहित अन्‍य सदस्‍य शामिल हैं।

रानी बाजार मैदान के पूजा पंडाल में दिखेगी हंगरी के पार्लियामेंट की आकृति

रानी बाजार के मैदान में इस बार हंगरी के पार्लियामेंट की आकृति पूजा पंडाल में नजर आएगी। जामताड़ा के कुशल व अनुभवी कारीगर धनंजय मंडल की टीम पंडाल निर्माण में लगी है। कांको के शिल्पकार नरसिंह गोस्वामी भव्य मूर्ति का निर्माण कर रहे है। पूजा पंडाल में लाइटिंग मनोज लाइट द्वारा की जा रही है। रंजीत गंभीर ने बताया कि पंडाल की लंबाई 110 फीट व ऊंचाई 80 फीट होगी।

रानी बाजार में लगने वाले भव्य मेले में मौत का कुआं, टोरा टोरा, ब्रेक डांस, मीना बाजार सहित लोगों को आकर्षित करने वाले कई स्टाॅल उपलब्‍ध होंगे। रानी बाजार पूजा कमेटी में संरक्षक विधायक ढुलू महतो, अध्यक्ष विजय श्रीवास्तव, उपाध्यक्ष रामदास सिंह, गंगा प्रसाद गुप्ता, सचिव मान सिंह, सह सचिव अभय सिंह, बमबम शर्मा, कोषाध्यक्ष हरिवंश लाल गंभीर, सह कोषाध्यक्ष दान सिंह, राजीव रंजन सिंह के अलावा कमेटी के सदस्यों में शंभु सिंह, हरजीत सिंह सलूजा, छोटे शर्मा, सुनील सिंह आदि शामिल हैं।

रेलवे इंस्टीट्यूट मैदान में बन रहा अमेरिका का डिजनी ग्रैंडेस्ट पैलेस

रेलवे इंस्टीट्यूट मैदान में अमेरिका के डिजनी ग्रैंडेस्ट पैलेस की आकृति पूजा पंडाल में दर्शायी जा रही है। इसकी चौड़ाई 105 फीट व ऊंचाई 75 फीट होगी। पंडाल का निर्माण बिल्लू डेकोरेटर द्वारा किया जा रहा है। जामताड़ा के कारीगर इरफान मिस्त्री की टीम द्वारा पंडाल का निर्माण किया जा रहा है। मूर्तिकार उत्तम दास प्रतिमा का निर्माण कर रहे हैं। आंतरिक सज्जा पश्चिम बंगाल दुर्गापुर के कलाकार गोरा चांद दे के जिम्मे है। सचिन लाइट एंड साउंड के जिम्मे लाइट का काम है।

कमेटी के अध्यक्ष पीएस चतुर्वेदी, सचिव विजय कुमार महाजन, कार्यकारी अध्यक्ष बिल्लू चटर्जी, कोषाध्यक्ष एस सरकार आदि पूजा की तैयारी में शामिल हैं। यहां लगने वाले मेले में मौत का कुआं, टावर झूला, चांद तारा ड्रेगेन ट्रेन, रेंजर, नाव, मीना बाजार, लोहे से निर्मित घरेलू उपयोग के सामान आदि लोगों को आकर्षित करते हैं।

Edited By: Deepak Kumar Pandey