जागरण संवाददाता, धनबाद: पूजा की भीड़ में आपराधिक घटनाओं पर नियंत्रण के लिए पुलिस ने एक दर्जन क्विक रेस्‍पांस टीम (क्यूआरटी) का गठन किया है। किसी भी अप्रिय सूचना पर क्यूआरटी तत्काल मौके पर पहुंचेगी। इसके साथ ही जिले के सभी डीएसपी को त्वरित दस्ता दिया जाएगा। एसएसपी, ग्रामीण एसपी भी क्यूआरटी की तीन टीम अपने पास रखेंगे। दो क्यूआरटी को धनबाद कंट्रोल रूम में रखने की व्यवस्था की जा रही है।

पूजा के दौरान पुलिस कंट्रोल रूम में 40 पुलिसकर्मी पूरे संसाधन के साथ 24 घंटे तैनात रहेंगे। जरूरत के आधार पर उन्हें विभिन्‍न इलाकों में भेजा जाएगा। कंट्रोल रूम में अगर कोई आपराधिक सूचना पुलिस को मिलेगी तो सबसे पहले इलाके के डीएसपी का त्वरित दस्ता मौके पर पहुंचेगा। इस त्‍वरित दस्‍ते में एक जमादार, दो हवलदार तथा एक दर्जन सिपाही शामिल रहेंगे। वहीं डीएसपी का त्वरित दस्ता शहर में भी भ्रमणशील रहेगा। जिस भी इलाके में छोटी-बड़ी घटना की सूचना मिलेगी, तत्काल क्यूआरटी वहां पहुंचेगी।

जिला पुलिस ने लोगों से की सहयोग की अपील

- जिले की पुलिस ने शहर के लोगों से अपील की है कि किसी भी पंडाल में भ्रमण के दौरान वाहन का उपयोग करने से परहेज करें।

- पंडाल के भ्रमण के दौरान अभिभावक अपने बच्चों के पॉकेट में एक पुर्जे में उसका और अपना नाम पता एवं मोबाइल नंबर जरूर लिखकर डाल दें।

- भीड़ में अगर कोई भटका हुआ बच्चा या वृद्ध या महिला मिले तो उसे तत्काल पूजा पंडाल तक पहुंचाएं और फोन पर पुलिस को इसकी सूचना दें।

- सुरक्षा के दृष्टिकोण से पंडाल के भ्रमण के दौरान कीमती सामान, गहनों का प्रयोग करने से परहेज करें। किसी भी प्रकार की अफवाह पर ध्यान ना दें और ना ही फैलाएं।

- पूजा के दौरान सड़क पर या पंडाल के आसपास कोई संदिग्ध व्यक्ति या कोई सामान, बैग, खिलौना, गाड़ी पॉकेट, लावारिस हालत में दिखे तो तत्काल इसकी जानकारी ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मी या थाने को दें। खुद छूने की कोशिश ना करें।

- पूजा में भ्रमण के दौरान सभी व्यक्ति दोपहिया वाहनों में डबल लॉक जरूर लगाएं, ताकि वाहनों को चोरी होने से बचाया जा सके।

- आपात स्थिति में सहायता की जरूरत पड़ने पर पुलिस कंट्रोल रूम में या 100 डायल पर फोन करें।

ड्रोन कैमरे से होगी भीड़ पर निगरानी

शहर के सभी बड़े पूजा पंडालों में भीड़ पर निगरानी के लिए पुलिस ड्रोन कैमरे का इस्तेमाल करेगी। तकरीबन एक दर्जन ड्रोन कैमरे विभिन्‍न पूजा पंडालों में लगाए जाएंगे। सरायढेला, भूली, कतरास तथा शहर के कई बड़े पूजा पंडालों में ड्रोन कैमरे से पुलिस भीड़ पर नजर रखेगी। फिलहाल जिला पुलिस के पास 10 ड्रोन कैमरे अपने हैं। कुछ कैमरे पुलिस किराये पर भी लेगी।

इव टीजिंग सेल का गठन

दुर्गापूजा की भीड़ में छेडख़ानी की घटनाओं पर लगाम लगाने के लिए पुलिस इव टीजिंग सेल का गठन कर रही है। इस सेल में महिला थाना प्रभारी समेत कई महिला व पुरुष पुलिसकर्मियों को शामिल किया जाएगा।

Edited By: Deepak Kumar Pandey

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट