संस, डुमरी/मोहलबनी : डुमरी दो नंबर गुरुद्वारा के पास जमीन को अतिक्रमण मुक्त करने संबंधी झरिया के सीओ केदारनाथ ¨सह की ओर से गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी को पत्र देने से सिख समाज के लोगों में काफी आक्रोश  है।  बुधवार को अतिक्रमण हटाने व चारदीवारी को तोड़ने के लिए दंडाधिकारी डुमरी पर नहीं पहुंचे। काफी संख्या में सिख समाज के लोगों ने दो नंबर गुरुद्वारा के पास पहुंचे सीओ के विरोध में प्रदर्शन किया।

¨सदरी, पाथरडीह, डिगवाडीह, जामाडोबा, डुमरी तीन, चार नंबर, धनबाद बड़ा गुरद्वारा, निरसा आदि के कमेटी प्रबंधक भी डुमरी पहुंचकर विरोध जताया। गुरुद्वारा परिसर  जो बोले सो निहाल के नारे से घंटों गूंजता रहा।

दूसरी ओर, झरिया अंचल कार्यालय से अतिक्रमण वाद संख्या 03/18 में अंतिम रूप से पारित आदेश के आलोक में अतिक्रमण का हटाने आदेश दिया गया है। अतिक्रमण भूमि के मौजा 110, खाता 100, प्लाट 419 अंकित है। डुमरी दो नंबर गुरुद्वारा के प्रांगण की दीवार को तोड़ने के आदेश से सिख समाज एकजुट होकर विरोध किया। लोगों का कहना है कि किसी भी कीमत पर गुरुद्वारा  की दीवार को तोड़ने नहीं दिया जाएगा। चाहे हमारी जान क्यों न चली जाय। उक्त जमीन में 25 सालों से गुरु पर्व मनाते आ रहे हैं। समाज के सभी लोग  कार्यक्रम करते हैं।

जानकारी पाकर वार्ड 40 के पार्षद सुजीत कुमार ¨सह भी पहुंचे। लोगों ने पार्षद से कहा कि आपने विवाह मंडप के लिए जमीन आवंटन कराई है। पार्षद का कहना है कि गुरुद्वारा की जमीन पर मैंने कोई बात नहीं की है। सड़क के बगल की जमीन में विवाह मंडप बनाने के बारे में कहा है। नगर निगम की ओर से यहां 35 लाख की लागत से विवाह मंडप बनाया जायेगा।

जिला 20 सूत्री धनबाद के सदस्य मंजीत ¨सह ने बताया कि परिसर में 25 सालों से गुरुद्वारा का कार्यक्रम होताआया है। अब सीओ कहते है कि जगह को खाली करना होगा। यहां 25 डिसमिल जमीन है। मामले में डीसी व उच्च अधिकारी से मिलकर जानकारी देंगे। सकारात्मक पहल की मांग करेंगे।

कहा कि टाटा कंपनी की ओर से जमीन को लेकर एनओसी भी दी गई है। गुरुद्वारा कमेटी के पास टाटा कंपनी का पत्र भी है। कंपनी को कोई आपत्ति नहीं है। धनबाद बड़ा गुरुद्वारा के सतपाल ¨सह ब्रोका ने कहा कि दो-तीन महीनों से लगातार सीओ कार्यालय की ओर से पत्र देकर जमीन को विवादित बनाया जा रहा है। प्रशासन ऐसा कार्य न करें कि एक समाज विशेष को ठेस पहुंचे। सिख सोसाइटी के प्रदेश सचिव सतपाल ¨सह बिट्टू ने कहा कि किसी के इशारे पर सिख समाज के लोगों को परेशान करना ठीक नहीं है। इसका विरोध किया जायेगा।

जबरन गुरुद्वारा की चारदीवारी को तोड़ा गया तो लोग सड़क पर उतरने को मजबूर होंगे। विरोध जतानेवालों में जसवंत ¨सह, सुजीत ¨सह, कुलवंत ¨सह, अर्जन ¨सह, सतपाल ¨सह, गोल्डी ¨सह, रविन्द्र ¨सह, गुरमीत ¨सह, हरदीप ¨सह, तेजपाल ¨सह, दिलजोत ¨सह, कांग्रेस के संतोष ¨सह, कांग्रेस अल्पसंख्यक के जिला अध्यक्ष बाबू अंसारी, पल्लू अंसारी, शीतल ¨सह, मुक्खा ¨सह, मनोहर ¨सह, अवतार ¨सह, रजिन्द्र ¨सह, जस¨वदर कौर, जसवीर कौर, मंजीत कौर, सरबजीत कौर, दलबीर कौर, रानी कौर, सबिन्दर कौर, गगन कौर, कुलजीत कौर, लखबीर कौर, बिमला कौर, लख¨बदर कौर, मंजीत कौर आदि थे।

----------

डुमरी दो नंबर गुरुद्वारा के पास सरकारी जमीन का अतिक्रमण किया गया है। इसे अतिक्रमणमुक्त किया जाएगा। आज प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक होने के कारण डुमरी नहीं जा सका। सरकारी जमीन को लीज पर देने का भी प्रावधान है। कमेटी के लोग आवेदन करें। उसे डीसी तक भेजने की पहल करेंगे।

- केदारनाथ ¨सह, सीओ झरिया

Posted By: Jagran