धनबाद, जेएनएन। Dhanbad Police sent 10 Indonesian citizens to jail धनबाद पुलिस ने दस इंडोनेशियाई नागरिकों को रविवार को जेल भेज दिया। इन सभी पर वीजा नियमों के उल्लंघन का आरोप है। तब्लीगी जमात से जुड़े इंडोनेशियाई नागरिक टूरिस्ट वीजा पर भारत पहुंचे थे। इसके बाद घूम-घूम कर धर्म का प्रचार कर रहे थे। इस मामले में गोविंदपुर थाना में प्राथमिकी दर्ज की गई थी। क्वारंटाइन अवधि समाप्त होने और कोरोना जांच रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद भेज दिया गया। टूरिस्ट वीजा पर धर्म प्रचार और लॉकडाउन उल्लंघन में जेल गए 10 इंडोनेशियाई

टूरिस्ट वीजा पर धर्म प्रचार के लिए निकले इंडोनेशिया नागरिकों को गोविंदपुर पुलिस सोमवार को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। इन सभी इंडोनेशिया नागरिकों को 17 दिन पूर्व गोविंदपुर आसनबनी मस्जिद से पकड़ा गया था। लॉकडाउन के दौरान तब्लीगी जमातियों को पुलिस ढूंढ रही थी। इसी बीच गोविंदपुर आसनबनी मस्जिद से पुलिस ने दस इंडोनेशिया नागरिक समेत कुल 14 लोगों को पकड़कर क्वारंटाइन कर दिया था। सभी छिपकर मस्जिद में रह रहे थे। पुलिस ने इन पर टूरिस्ट वीजा के नाम पर धर्म प्रचार करने तथा लॉकडाउन उल्लंघन का मुकदमा दर्ज किया था। जेल भेजने से पूर्व सभी इंडोनेशिया नागरिक आई एसएम आईआईटी में 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन किए गए थे। 15 अप्रैल को ही इनकी क्वारंटाइन अवधि समाप्त हुई थी, जिसके बाद पुलिस ने दोबारा 16 अप्रैल को सभी इंडोनेशिया नागरिकों के कोरोना संक्रमण की जांच कराई, जिसमें सभी का रिपोर्ट निगेटिव मिली। सोमवार को गोविंदपुर इंस्पेक्टर के नेतृत्व में पुलिस टीम आईआईटी आइएसएम पहुंची और इंडोनेशिया नागरिकों को कोर्ट में पेश किया। कोर्ट ने सभी को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया।

जेल में भी रहना होगा 14 दिन क्वारंटाइन 

14 दिनों तक आइआइटी आइएसएम कैंपस में क्वारंटाइन रहे इंडोनेशियाई नागरिकों को जेल में भी 14 दिन क्वारंटाइन पर रहना पड़ेगा। जेल कैंपस में घुसने के साथ ही इन सभी की मेडिकल जांच करायी गई। इसके बाद से ही उसे जेल के वॉर्र्डों में शिफ्ट किया गगा। जेल अधीक्षक अजय प्रजापति ने बताया कि पुलिस भले ही इंडोनेशियाई नागरिकों को क्वारंटाइन वॉर्ड से लेकर आई है, पर रास्ते में वह लोग कितने लोगों से मिले। यह जानकारी जेल प्रशासन को नहीं है। लिहाजा जो व्यवस्था बनाई गई है उसके आधार पर सभी को 14 दिनों तक क्वारंटाइन रहना होगा।   

इन इंडोनेशियाई नागरिकों को भेजा गया जेल

अनदिका फहमी, मोहम्मद रिजकी,  हिदायत, मो. यूसुफ इस्कंदर, नसरुद्दीन,  सतारिया वायु आदि पुतरा  अहमद ओंटे, अब्दुल्ला सूदियाना, उनदाग सुपरमैन, अहमद हमजाह,  तौफीक सगाला  लाबाबा शामिल है। 

बख्तर बंद वाहन में ही इंडोनेशियाई नागरिकों ने पढ़ी नमाज

पुलिस जब 10 इंडोनेशियाई नागरिकों को जेल भेजने के लिए कोर्ट की प्रक्रिया पूरी कर रही थी, उसी वक्त पुलिस की बख्तर बंद गाड़ी में सभी इंडोनेशिया नागरिकों ने नमाज भी पढ़ी।  

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप