जासं, झरिया : झरिया थाना अंतर्गत अंचल कार्यालय के पास स्थित कृषि बाजार समिति हाट राज ग्राउंड में झरिया थाना पुलिस ने शुक्रवार की रात छापेमारी कर अवैध शराब फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया था। यहां के तीन गोदामों और शौचालय से पुलिस ने लगभग 10 लाख की अवैध अंग्रेजी शराब, निर्मित और अर्ध निर्मित शराब के बोतल, स्प्रीट, विभिन्न कंपनी के रैपर, मशीन जब्त की थी। झरिया पुलिस ने रात भर ताबड़तोड़ छापेमारी की। पुलिस ने राज ग्राउंड में ही छापेमारी कर अवैध शराब विक्रेता शिवजी के घर से उनके पुत्र दीपक सहित पांच अन्य लोगों को हिरासत में लिया। पुलिस को मौके से एक अवैध पिस्टल भी मिली है। हिरासत में लिए गए लोगों से पुलिस लगातार पूछताछ कर रही है। शिवजी फरार बताया जाता है। हिरासत में लिए गए सभी लोग राज ग्राउंड व आसपास के ही रहने वाले हैं। इनमें गौरीशंकर पर पहले भी अवैध शराब के धंधे में शामिल होने के आरोप लगे हैं।

राज ग्राउंड में पहले भी झरिया थाना पुलिस छापेमारी कर अवैध शराब की फैक्ट्री का भंडाफोड़ कर चुकी है। कई लोगों को पुलिस जेल भी भेज चुकी है। लेकिन जेल से आने के बाद धंधेबाज फिर अवैध शराब बनाने का काम करने लगे थे। झरिया में काफी मात्रा में अंग्रेजी अवैध शराब की जब्ती के मामले को धनबाद जिला के वरीय पुलिस अधिकारियों ने गंभीरता से लिया है। धंधे में शामिल अन्य लोगों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की छापेमारी जारी है। वरीय पुलिस पदाधिकारियों के निर्देश पर झरिया थानेदार पंकज कुमार झा के नेतृत्व में गठित टीम लगातार छापेमारी कर रही है। अवैध शराब धंधे में लिप्त लोगों को पकड़ने में जुटी है। थाना प्रभारी पीके झा ने कहा कि अवैध शराब के धंधे में शामिल लोगों को बख्शा नहीं जाएगा। उन पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

झरिया से बिहार भेजी जाती थी अवैध अंग्रेजी शराब

बिहार में शराबबंदी का पूरा फायदा राज ग्राउंड झरिया के अवैध शराब धंधेबाज उठा रहे थे। कई सालों से यहां अवैध शराब की फैक्ट्री में शराब बना रहे थे। पिकअप वैन व अन्य वाहनों से यहां बनी अवैध शराब को गया, औरंगाबाद, जमुई झाझा, नालंदा, बिहारशरीफ आदि जिलों में भेज रहे थे। इसके पूर्व पिछ्ले वर्ष भी राज ग्राउंड में छापेमारी कर झरिया थाना पुलिस 40 लाख से अधिक की अवैध शराब जब्त कर चुकी है।

Edited By: Atul Singh