भौंरा, जेएनएन। ईजे एरिया भौंरा के फोर ए आउटसोर्सिंग पैच में कम होल कर ब्लास्टिंग करने से नाराज देवप्रभा आउटसोर्सिंग के निदेशक कुंभनाथ सिंह ने ब्लास्टिंग अधिकारी एसके सिंह के साथ गाली-गलौज कर उनकी पिटाई कर दी।

अधिकारी की पिटाई से क्षेत्र के कोल अफसरों में रोष है। अधिकारियों का कहना है इस प्रकार के माहौल में अधिकारी काम करने में खुद को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं। घटना की शिकायत पीडि़त अधिकारी ने भौंरा साऊथ के प्रोजेक्ट पदाधिकारी से की। पीओ मामले में संबंधित थाना में मामला दर्ज कराने की तैयारी कर रहे हैं। घटना के बाद भौंरा क्षेत्रीय कार्यालय में ईजे एरिया के अधिकारियों की बैठक बुधवार को हुई। भौंरा, सुदामडीह व वाशरी के अधिकारी मौजूद थे। सभी ने घटना की निंदा करते हुए उच्च प्रबंधन से दोषी पर कार्रवाई व अधिकारियों की सुरक्षा की मांग की। अधिकारियों का कहना था कि आए दिन किसी न किसी अधिकारियों के साथ अभद्र व्यवहार के साथ मारपीट की जाती है। ऐसी स्थिति में हम काम कैसे करेंगे। अधिकारियों का कहना है कि अगर ब्लास्टिंग में कोई समस्या थी तो वे  हमारे उच्च अधिकारी से बात कर सकते थे।

ब्लास्टिंग अधिकारी एसके सिंह का कहना है कि आज तकरीबन 225-230 होल किए गये थे। कुछ होल बस्ती के पास होने के कारण  उसमें बारूद नहीं डाला गया। जबकि कुछ होल में बारूद इसलिए नहीं डाला गया था कि वहां का तापमान काफी अधिक था। बाकी करीब 100 होल में ब्लास्टिंग की तैयारी चल रही थी। तभी कुंभनाथ आये और कहने लगे कि इतना कम होल में क्यों ब्लाङ्क्षस्टग कर रहे हो। जब उन्हें कारण बताया गया तो अचानक हम पर हाथ छोड़ दिया। गंदी-गंदी गाली देने लगे।

ईजे एरिया के जीएम चंदन भट्टाचार्य का कहना है घटना की जितनी भी ङ्क्षनदा की जाये कम है। इसकी जानकारी उच्च अधिकारियों को देंगे। ताकि भविष्य में इस प्रकार की घटना न हो। इसका भी उपाय किया जाए। बाद में अधिकारियों ने घटना की जानकारी एसोसिएशन के वरीय पदाधिकारियों को भी दी। बैठक में जयंत कुमार, तापस ख्वास, एसके झा, एस दास, सुशील कुमार, एस मांजी, बी महतो, अजीत यादव, रोहितास मीणा, आरके सिंह, भारत वैष्णव, आर गुप्ता, प्रमोद कुमार, सीआर सिकदर, एसआर पंजीयन आदि अधिकारी थे।

कुंभनाथ ने आरोप को बताया बेबुनियादः इस बाबत देवप्रभा आउटसोर्सिंग के निदेशक कुंभनाथ सिंह ने कहा कि ईजे एरिया के ब्लास्टिंग अधिकारी की ओर से गाली-गलौज व मारपीट का हमपर लगाया गया आरोप झूठा व निराधार है। भौंरा में किसी प्रकार की मारपीट नहीं हुई है।

Posted By: Mritunjay

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप