तोपचांची: बोकारो जिला के तेलो गांव में कोरोना के मरीज के मिलने की खबर मिलते ही तोपचांची प्रखंड के दर्जनों गांव के लोग सजग व सतर्क दिखने लगे हैं। तेलो तोपचांची प्रखंड कार्यालय से महज 13 किलोमीटर दूरी पर है। कोरोना का संक्रमण उनके गांव तक न पहुंचे, इसे लेकर लोग सतर्क हैं। बाहर आने वाले सभी रास्ते को पूरी तरह से बंद कर दिया है। मंगलवार को दुमदुमी गांव के सभी रास्ते बंद कर मुखिया विकास कुमार महतो ने गांव में जागरूकता अभियान चलाया। पंचायत को सैनिटाइज करने का काम शुरू कर दिया गया है। टोलों व गलियों को सैनिटाइज किया गया। मुखिया ने बताया सरकार के दिशा निर्देश का अनुपालन किया जा रहा है। कोरोना को रोकने के लिए सभी घरों को सैनिटाइज किया जाएगा। फिलहाल सार्वजनिक चापाकल, कुआं, बांध, घाट आदि में ब्लीचिग पाउडर का छिड़काव किया जा रहा है। गांव में जागरूकता अभियान चलाकर लोगों को जागरुक किया जा रहा है। बाहर से गांव में आने वालों का चिकित्सीय जांच के बाद ही प्रवेश कराया जाए तथा ऐसे लोगों को अपने-अपने घरों में होम क्वारंटाइन हैं। सरकार का निर्देश जैसा आएगा उसका पालन किया जाएगा। पप्पू कुमार, भोला महतो, खिरोधर महतो, नीरज प्रमाणिक, उप मुखिया जोगेश महतो ने योगदान दिया। तोपचांची-गोमो मार्ग से भवानी चौंक होते हुए मानगों गांव में जाने वाले रास्ते को ग्रामीणों ने बंद कर दिया है। बाहरी लोगों को गांव प्रवेश करने से पूरी तरह से रोक लगा दिया है। प्रखंड के दर्जनों गावों के लोग सजग होकर कोरोना से बचाव के कार्य मे जूटे हुए हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस