आशीष अंबष्ठ, धनबाद। बीसीसीएल खेल एकेडमी खोलेगी। प्रथम चरण में इसमें परियोजना से विस्थापित हुए परिवार की 20 बेटियों को ट्रेनिंग दी जाएगी। चयनित बेटियों की उम्र 12 से 13 वर्ष के बीच होगी। कोल इंडिया प्रबंधन ने भी इस पर अपनी मुहर लगा दी है। बीसीसीएल प्रबंधन इसके लिए आधारभूत संरचना तैयार करेगा। अब इसे बीसीसीएल बोर्ड आफ डायरेक्टर की बैठक में अनुमति के लिए रखा जाएगा। बीसीसीएल ने अपने बोर्ड के सदस्यों की भी सहमति ले ली है। बोर्ड में केवल मुहर लगना बाकी है। सबकुछ ठीक रहा तो वर्ष 2022-23 के अप्रैल से इसकी शुरुआत कर दी जाएगी। इस मद में बीसीसीएल ने अनुमानित राशि 4.60 करोड़ रुपये खर्च करेगी। चयनित लड़कियों के लिए पांच साल तक बीसीसीएल प्रबंधन पढ़ाई के साथ-साथ उनके रहने व खेल की पूरी व्यवस्था करेगी। इन्हें कोचिंग की भी सुविधा दी जाएगी।

डीएवी, डीपीएस में होगी पढ़ाई की व्यवस्था

चयनित बच्चियों के लिए डीएवी कोयला नगर, डीपीएस व केंद्रीय विद्यालय में शिक्षा की व्यवस्था बीसीसीएल करेगी। पांच साल तक यह व्यवस्था मिलेगी।

जगजीवन नगर में होगा हास्टल व खेल के मैदान का निर्माण

खिलाडिय़ों के रहने के लिए जगजीवन नगर में हास्टल का निर्माण होगा। जगजीवन नगर में ही खेल का मैदान को बेहतर ढंग से विकसित किया जाएगा। जहां खिलाडिय़ों को प्रशिक्षण की व्यवस्था होगी।

खर्च होने वाली संभावित राशि

  • हास्टल निर्माण में एक करोड़ 49 लाख 27 हजार।
  • खेल मैदान के निर्माण में दो करोड 7 लाख 68 हजार।
  • मिनी बस 32 सीटर खरीदने की लागत 25 लाख ।
  • प्रशिक्षण के लिए ग्राउंड में सामग्री पर नौ लाख ।
  • स्पोर्टस किट 20 खिलाडियों के लिए 12.70 लाख ( प्रति खिलाड़ी 64 हजार के करीब)
  • एथलीट तैयार करने में बीस खिलाडियों के खाने, शिक्षा, ट्रेनर के मद में 49.15 लाख।
  • हास्टल व्यवस्था पर 7.38 लाख रुपये रखा गया है।

खेल एकेडमी पर वर्कआउट किया जा रहा है। अगले वित्तीय वर्ष में इसकी शुरुआत करने की योजना है। सीएसआर मद से इस काम को किया जाएगा। 20 लड़कियों से इसकी शुरूआत होगी।

-पीवीआरकेएम राव, डीपी बीसीसीएल

Edited By: Mritunjay