धनबाद : स्पेशल फीमेल वीआरएस स्कीम 2014 में लागू हुआ था। इसके बाद रिवाइज्ड 2015 में स्कीम लेकर कॉल इंडिया प्रबंधन आया लेकिन फिर भी लोगों को इससे फायदा नहीं मिल रहा। दर्जनों आवेदनकर्ता नियोजन से वंचित हैं। आवेदन करनेवाले आश्रितों ने गुरुवार को गाधी सेवा सदन में बैठक की। इन समस्याओं को लेकर गांधी सेवा सदन में गुरुवार को फीमेल वीआरएस आवेदनकर्ताओं ने बैठक की। बैठक में वक्ताओं ने कहा कि लंबित फाइल यथाशीघ्र निष्पादन होनी चाहिए लेकिन ऐसा हो नहीं रहा है। प्रबंधन के उदासीन रवैये के खिलाफ को लेकर 25 जून को रणधीर वर्मा चौक पर धरना देने का निर्णय लिया है।

धनबाद में करीब पाच सौ आश्रित है जो लगातार कोल इंडिया एवं उसकी अनुषंगी इकाई में नियोजन के लिए आवेदन करने के बाद भी नौकरी से वंचित हैं। आफताब आलम ने कहा कि जेबीसीसीआइ में सेंट्रल ट्रेड यूनियन द्वारा फीमेल वीआरएस की मांग उठाई गई थी। इसके बाद स्पेशल फीमेल वीआरएस प्रक्रिया शुरू की गई। समय पर सभी ने आवेदन भी किया लेकिन प्रबंधन इसपर ध्यान नहीं दे रहा है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस