जागरण संवाददाता, धनबाद: कोरोना काल में गोल्ड लोन जादू की छड़ी बन गया है। बड़े-बड़े बैंक इस सेगमेंट को और खंगालने में जुट गए है। इनमें भारतीय स्टेट बैंक और केनरा बैंक जैसे बड़े नाम हैं तो कई और बैंक भी गोल्ड लोन के रास्ते पर चल पड़े हैं। कोरोना वायरस महामारी के बीच गोल्ड लोन की मांग बढ़ी है। केनरा बैंक में गोल्ड लोन को बढ़ावा देने के लिए अलग-अलग बिजनेस वर्टिकल शुरू किया है।

इसके तहत सोने को गिरवी रख कर लोन लिया जा सकता है। इसके अलावा लोगों को अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए भी बैंक की ओर से लोन दिया जाएगा। केनरा बैंक गोल्ड पर अधिकतम 10 लाख रुपये तक का लोन देगा। गुरुवार को सरायढेला मैं केनरा बैंक गोल्ड लोन प्लाजा का उद्घाटन बैंक के सहायक महाप्रबंधक विजय शंकर झा ने किया।

आइए जानते हैं इसके बारे में सबकुछ। केनरा बैंक के सहायक महाप्रबंधक विजय शंकर झा ने बताया की आप जितने रुपये का सोना बैंक के पास गिरवी रखेंगे, उसकी कीमत का 75 फीसदी तक लोन के रूप में मिल जाएगा। गिरवी रखे जाने वाले सोने की शुद्धता 18 कैरेट और 22 कैरेट के आधार पर आंकी जाएगी। उन्होंने कहा कि इस चुनौतीपूर्ण समय में लोगों की आजीविका को सहारा देने की जरूरत है। बैंक में लोगों की जरूरतों को समझा है और उनकी पहचान की है। लोगों को बिना किसी बाधा के लोन उपलब्ध कराने के लिए बैंक ने गोल्ड लोन के लिए खास बिजनेस वर्टिकल शुरू किया है।

उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में ग्राहकों के समक्ष चुनौतियों को देखते हुए स्वर्ण ऋण कि योजनाएं तैयार की गई है। इस मौके पर सरायढेला शाखा के शाखा प्रबंधक गुंजन कुमार बागवे ने सभी का स्वागत किया। वही मार्केटिंग मैनेजर गोल्ड लोन रवीश कुमार ने कृषि स्वर्ण ऋण तथा गैर कृषि स्वर्ण ऋण

उत्पाद की विस्तृत जानकारी देते गोल्ड लोन लेने की पूरी प्रक्रिया यह बारे में विस्तार से लोगों को समझाया। इस मौके पर बैंक के अन्य कर्मियों के अलावा काफी संख्या में ग्राहक मौजूद थे।

Edited By: Atul Singh