धनबाद, जेएनएन। अगर आप पांच जून को गांधीधाम से हावड़ा जानेवाली गरबा एक्सप्रेस में सफर करने वाले हैं तो अपनी सीट नंबर नए सिरे से जरूर पता कर लें। कहीं ऐसा न हो कि आप अपना सामान एडजस्ट कर बैठ गए और अगले स्टेशन पर कोई आकर कहे, हट जाइए प्लीज, ये सीट मेरी है। या ऐसा भी मुमकिन है कि रात में आप चैन की नींद ले रहे हैं और कोई सीट के लिए आपकी नींद में खलल डाले। ऐसा इसलिए क्योंकि रेलवे ने पांच जून से गरबा एक्सप्रेस को राजधानी एक्सप्रेस की तरह एलएचबी रेक से चलाने की घोषणा कर दी है।

सभी कोच होंगे एलएचबी

हावड़ा से गांधीधाम जानेवाली ट्रेन गरबा एक्सप्रेस 5 जून से एलएचबी कोच के साथ चलेगी। सेकेंड सीटिंग से सेकेंड एसी तक के सभी कोच एलएचबी के होंगे। इस वजह से सीट नंबर बदलने की पूरी संभावना है। क्योंकि पुरानी पारंपरिक कोच की तुलना में एलएचबी कोच में सीटें ज्यादा होती हैं। सीटें अधिक होने से ज्यादा सफर कर सकेंगे। वेटिंग लिस्ट वालों को भी इसका फायदा मिलेगा। पर पहले से बुक टिकट के लिए जारी सीट नंबर में बदलाव भी हो सकता है। इसलिए बेहतर होगा कि सफर से पहले की इसकी जानकारी ले लें। 

अधिक रफ्तार से चलेगी ट्रेन

गरबा एक्सप्रेस पश्चिम रेलवे की है। जोन की ओर से बताया गया है कि जल्द ही कुछ और ट्रेनों को भी एलएचबी रेक से चलाया जाएगा। इससे यात्रियों का सफर आरामदायक होगा और पहले से ज्यादा सुरक्षित भी। पुराने पारंपरिक कोच की तुलना में आधुनिक एलएचबी रेक से अधिक रफ्तार से ट्रेन चलाई जा सकेगी।

Edited By: Mritunjay