Move to Jagran APP

Dumka Murder Case: दुमका में गैंग बनाकर कम उम्र की लड़कियों को क‍िया जा रहा टारगेट

पीड़ि‍ता की शाहरुख की तस्‍वीरें वायरल हो गई है। इसकी पुष्‍ट‍ि अभी नहीं हुई है। इसल‍िए लोग खुले तौर पर तो इसके संबंध में बाते करने से बच रहे है। इस बीच वहां से जो जानकारी म‍िल रही वह जरूर आपको इसे लव-ज‍िहाद के चश्‍मे से देखने को मजबूर कर

By Atul SinghEdited By: Wed, 31 Aug 2022 09:29 PM (IST)
दुमका की अध‍िवक्‍ता प्र‍ियादत्‍ता स‍िंह जो लव-ज‍िहाद केस को ड‍िल की है। (फाइल फोटो)

जागरण संवाददाता, दुमका: पीड़‍िता के साथ शाहरुख की वायरल तस्‍वीर। जांच के बाद ही इसकी सच्‍चाई सामने आ पाएगी। इसके पहले जो दुमका से जानकारी म‍िल रही है वो चौंकाने वाली है। एक सुन‍ियोज‍ित रणनीत‍ि के तहत वहां कम उम्र की लड़क‍ियों को फांसने का काम बहुत पहले से चल रहा है। ये संगठन वहां के इलाके में सक्र‍िय बताए जाते है। शाहरुख के साथ हत्‍या में शाम‍िल नईम उस इलका का मास्‍टरमाइंड बताया जा रहा है। आस-पास के लोगों ने बताया क‍ि वह ऐसे संगठनों के ल‍िए कार्य करता है। दुमका में कई ऐसी घटनाएं घट चुकी है ज‍िसका संबंध लव-ज‍िहाद से रहा है। कुछ मामले पुल‍िस की चौखट तक पहुंचे भी है। ज‍िसमें नईम जेल की हवा भी खा चुका है। इसके अलावा बहुत सारे मामले लोक-लज्‍जा के कारण पर‍िवारों के बीच ही दब कर रह जाते है। जांच के बाद आगे भी बहुत सारे चौंकाने वाले केस सामने आ सकते है, ऐसा दावा क‍िया जा रहा है। इन मामलों को बहुत करीब से देखने वाली दुमका क्षेत्र की अध‍िवक्‍ता प्र‍ियादत्‍ता स‍िंह। ऐसी कुछ केस को वह खुद ड‍िल भी कर चुकी है। आइए जानते है प्र‍ियादत्‍ता से ही इस मामले के बारे में।

उच्‍च स्‍तरीय जांच में कई और खुलासे आ सकते है सामने

प्रियादत्ता सिंह ने कहा कि दुमका में एक संगठित गैंग काम रहा है। जो खासतौर पर हिंदू नाबालिग लड़कियों को अपने प्रेम जाल में फांस कर इनपर शादी व धर्म परिवर्तन का दबाव बना रहा है। कहा कि दुमका के डंगालपाड़ा, दुधानी, बंदरजोड़ी और जरुआडीहा में यह रैकेट प्रभावी है। कहा कि कई ऐसे मामले हैं जो लोक लज्जा के कारण अब तक पुलिस तक नहीं पहुंच पाई है। ऐसे मामलों की भी उच्च स्तरीय जांच हो जाए तो चौंकाने वाला मामले सामने आ सकता है। कहा कि दुमका हत्याकांड से एक बार फिर इनके घिनौने करतूतों की सच्चाई सबके सामने है। यह घटना न‍िदंनीय है और इसमें शामिल दोषियों को फांसी की सजा मिलनी चाहिए। उन्‍होंने दुमका की एक पीड़िता को न्याय दिलाने की कानूनी लड़ाई भी ऐसे मामले में लड़ी है।

ये है पूरा मामला:

घटना के पहले की थी घर की रेकी

शाहरुख पीड़‍िता से शादी करना चाहता था। प्रस्‍ताव नहीं मानने पर 22 अगस्‍त को  शाहरुख ने पीड़‍िता को फोन पर धमकी दी थी। धमकी में कहा था क‍ि अगर तुम नहीं मानोगी तो जान से मार देंगे। पीड़‍िता घर आकर अपने प‍िता से सारी बातें बताती है। प‍िता कहते है सुबह देखेंगे। और अगले द‍िन 23 अगस्‍त को सुबह चार बजे घटना को अंजाम देता है। शाहरुख के साथ इस जघन्‍य अपराध में उसका साथी नईम उसका पूरा साथ देता है। घटना को अंजाम तक पहुंचाने से पहले शाहरुख ने पीड़‍िता के घर की रेकी की थी। पता लागया था क‍ि पीड़ि‍ता कहां सोती है। क‍िस रूम में सोती है। पहले से वह इन चीजों केा लेकर आश्‍वस्‍त हो गया था। फ‍िर घटना को सुन‍ियोज‍ित प्‍लान‍िंग के तहत अंजाम द‍िया।

ख‍िड़की का कांच था आख‍िरी रोड़ा

अब पीड़‍िता व घटना को अंजाम तक पहुंचाने के बीच में पीड़‍िता के घर की ख‍िड़की का काच बीच में आ रहा था। ज‍िसे वह घटना के पांच द‍िन पहले ही मारकर तोड़ दिया था। मतलब उसने पेट्रोल से छ‍िड़कर ही जलाना ही रणनीत‍ि में तय था। खि‍ड़की तोड़ने के बाद पीड़‍िता के प‍िता ने पुल‍िस में श‍िकायत करने की बात कही थी। तभी शाहरुख के बड़े भाई ने बात को यह कह कर जाने द‍िया क‍ि वह अब शाहरुख को यहां से बाहर भेज देगा। आगे से कभी इस तरह की घटना नहीं होगी। ख‍िड़की का कांच टूट चुका था। अब शाहरुख के इरादे और अंजाम के बीच कोई रोड़ा नहीं बचा था। पीड़‍िता के पर‍िवार वाले हत्‍यारे के बड़े भाई के बात में आ गए। शाहरुख की श‍िकायत पुल‍िस में नहीं की। शाहरुख ने अपनी रणनीत‍ि के तहत 23 अगस्‍त बुधवार को सुबह चार बजे ख‍िड़की से पेट्रोल छ‍िड़क देता है। पीड़‍िता उस समय अपने रूम में सोई हुई थी। इसके बाद पांच द‍िनों तक ज‍िदंगी व मौत के बीच लड़ते हुए रव‍िवार 27 अगस्‍त को दम तोड़ देती है।