Move to Jagran APP

Love Jihad: सनातनी लड़की को फांसने के लिए दो बच्चों का बाप आराफात ने राजू बन किया खुराफात, राज खुला तो मतांतरण का बनाया दबाव

Bokaro Love Jihad Case लड़की ने बताया कि उसके दोस्त मुकेश व शक्ति ने इसी साल जनवरी में उसका परिचय आराफात से कराया था। दोनों को मालूम था कि वह मुस्लिम है शादीशुदा और दो बच्चों का बाप भी। बावजूद उसे कुछ नहीं बताया। आराफात ने अपनी बातों फंसा लिया।

By MritunjayEdited By: Published: Mon, 07 Jun 2021 08:00 AM (IST)Updated: Mon, 07 Jun 2021 08:00 AM (IST)
बोकारो में हिंदू लड़की पर धर्म परिवर्तन का दबाव ( प्रतिकात्मक फोटो)।

बोकारो, जेएनएन। Bokaro Love Jihad Case दो बच्चों के बाप बोकारो के गोड़बाली के रहने वाले 25 साल के मो. आराफात ने सनातन धर्म की एक लड़की को अपने प्रेम जाल में फंसाया। उससे विवाह की मंशा में अपना नाम भी आराफात की जगह राजू बताया। उसका यौन शोषण किया। जब लड़की ने विधिवत शादी के लिए कहा तो उसने सच्चाई बताकर धर्म परिवर्तन का दबाव बनाया। पीड़ित लड़की ने बोकारो महिला थाने में मामला दर्ज कराया है। लव जिहाद के इस मामले में पुलिस ने त्वरिज कार्रवाई करते हुए आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है।

दो बच्चों का बाप फिर भी प्रेमजाल में फंसाया

लड़की ने बताया कि उसके दोस्त मुकेश व शक्ति ने इसी साल जनवरी में उसका परिचय आराफात से कराया था। दोनों को मालूम था कि वह मुस्लिम है, शादीशुदा और दो बच्चों का बाप भी। बावजूद उसे कुछ नहीं बताया। आराफात ने उसे अपनी बातों फंसा लिया। शादी का झांसा देकर यौन शोषण किया। हमने जब समाज के सामने शादी का दबाव बनाया, तो उसने पहले तो ना नुकुर की। बाद में वह कहने लगा कि शादी करनी है तो पहले धर्म परिवर्तन करो। इस्लाम स्वीकार कर लो तो शादी करेंगे। शादी की मंशा से उसने नाम बदलकर धोखा दिया है। अब पुलिस हमें न्याय दिलाए। आरोपित को कड़ी सजा दिलाए। ताकि ऐसी घटनाओं पर रोक लगे।

शक्ति और मुकेश भी कसूरवार

लड़की के परिवार के सदस्यों का कहना है कि पूरे मामले में मुकेश व शक्ति भी उतने ही दोषी हैं जितना आराफात। उन दोनों ने भी बेटी को अंधेरे में रखा। उसे दूसरे धर्म के लड़के के नजदीक पहुंचाया। तथ्यों को छिपाया। इधर मामला दर्ज करने के बाद पुलिस मुकेश व शक्ति की भी तलाश कर रही है।

बोकारो में पहले भी हुई है घटना

हाल में बोकारो में काम करने वाले एक रेलकर्मी की बेटी के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ था। सिवनडीह के रहने वाले आरजू नामक युवक ने अपना धर्म छिपाया। रेल कर्मी की पुत्री को प्रेमजाल में फंसाकर बंद कमरे में सनातन धर्म के रीति रिवाजों से शादी भी कर ली थी। मामला खुला तो काफी हंगामा हुआ। विधानसभा तक इस मामले की गूंज गई थी।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.