मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

धनबाद,जेएनएन। पुरुषों के वर्चस्व वाले ट्रैक मैन का काम करने वाली महिलाओं के लिए अलग से विशेष समूह बनेगा। इससे महिलाएं एक साथ काम कर सकेंगी। उनके लिए गैंग लॉज का भी निर्माण कराया जाएगा। यह निर्णय शुक्रवार को डीआरएम अनिल कुमार मिश्रा के साथ हुई ईस्ट सेंट्रल रेलवे कर्मचारी यूनियन की स्थायी वार्ता तंत्र (पीएनएम) की बैठक में लिया गया।

यूनियन के मीडिया प्रभारी एनके खवास ने बताया कि वैसे स्टेशन भवन जिनकी आयु पूरी हो चुकी है। उन्हें रेलवे नये सिरे से निर्माण कराएगी। भवनों का आवश्यकतानुसार विस्तार भी होगा। बैठक में एडीआरएम अशोक कुमार, सीनियर डीसीएम अखिलेश कुमार पांडेय, सीनियर डीपीओ उज्ज्वल आनंद, सीनियर डीएफएम कुमार उदय के साथ यूनियन से डीके पांडेय, मीना कुंडू, एके दा, शिव प्रसाद व अन्य शामिल थे।

इन मांगों पर बनी सहमति

- टीटीई रेस्ट रूम और पैनल रूम बनेंगे वातानुकूलित

- सुदूर क्षेत्र के कर्मचारियों को वहीं मिलेगी पास-पीटीओ की सुविधा

- नये रेलकर्मियों को उनके ग्रेड के अनुसार आवास सुविधा

- महिलाओं के कार्यस्थल पर वॉशरूम की सुविधा

- कर्मचारियों के लिए स्वास्थ्य सुविधाओं में सुधार।

Posted By: Mritunjay

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप