जागरण संवाददाता, धनबाद : कोरोना संक्रमण की रोकथाम और इससे बचाव को लेकर जिला जनसंपर्क कार्यालय की ओर से जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। लोगों को जागरूक करने के लिए नुक्कड़ नाटक, प्रभात फेरी और ऑटो से प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। इस पर प्रतिदिन जिला प्रशासन के जन संपर्क विभाग को 20,900 रुपये खर्च करने पड़ रहे हैं। इसके बावजूद अब भी लोग बिना मास्क के घर से निकल रहे हैं और पुलिस उन्हें लगातार पकड़कर कैंप भेज रही है।

जिला जनसंपर्क कार्यालय की ओर से नुक्कड़ नाटक के लिए भारतीय लोक कल्याण संस्था रांची को जिम्मेवारी दी गई है। आठ सदस्यीय इस टीम को एक दिन में दो जगहों पर नुक्कड़ नाटक के माध्यम से लोगों को जागरूक करना पड़ता है। टीम को एक दिन के लिए 14,000 रुपये का भुगतान किया जाता है। इस टीम को भीड़भाड़ वाले इलाकों में प्रभात फेरी भी निकालने की जिम्मेवारी है।

शहर में छह ऑटो से भी किया जा रहा है प्रचार : प्रचार-प्रसार एवं जागरूकता के लिए छह ऑटो को शहर की सड़कों पर उतारा गया है। इस ऑटो में माइक एवं पोस्टर के माध्यम से प्रचार किया जाता है। प्रत्येक ऑटो को एक दिन के लिए 1150 रुपये का भुगतान किया जाता है। इस प्रकार एक दिन में ऑटो पर 6,900 रुपये खर्च किए जा रहे हैं।

-----

जागरूकता अभियान को प्रभावी बनाने के लिए लोगों के बीच पोस्टर और पंपलेट भी बांटे जा रहे हैं। इसके अलावा नुक्कड़ नाटक टीम को थीम आधारित प्रस्तुति देने का आदेश दिया गया है। टीम को अपना पहनावा भी बदलने की बात कही गई है। यह भी आदेश दिया गया है कि टीम लोगों को जागरूक करे ना कि केवल अपना काम। सभी कार्यों की मानिटरिग की भी व्यवस्था है। प्रत्येक दो घंटे में सभी की निगरानी भी की जाती है।

- ईशा खंडेलवाल, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी, धनबाद

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप