धनबाद, जेएनएन। पेट्रोल-डीजल की कीमतों में वृद्धि के विरोध में राष्ट्रव्यापी कार्यक्रम के तहत सोमवार को धनबाद जिला कांग्रेस ने प्रदर्शन किया। स्पेशल ट्रेनों के लिए तत्काल टिकट की बुकिंग शुरू हो गई है। धनबाद जिले ने मुख्यमंत्री राहत कोष में 91.78 लाख रुपये का मदद किया है। भूली टाउनशिप में बीसीसीएलकर्मी को कमरे में बंद कर फांसी लगा ली। निरसा की बहुचर्चित नर्स की दूसरी कोरोना जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। 

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में वृद्धि के विरोध में कांग्रेस का प्रदर्शन

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में वृद्धि के विरोध में कांग्रेस के राष्ट्रव्यापी धरना-प्रदर्शन के दाैरान सोमवार को धनबाद के काग्रेसियों ने भी अपनी ताकत दिखाई। कांग्रेसियों ने धनबाद कोर्ट रोड स्थित ग्रीन व्यू पेट्रोल पंप के सामने जमा होकर केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन और नारेबाजी की। इस दाैरान पूर्व मंत्री मन्नान मल्लिक ने पेट्रोल-डीजल की कीमतों में वृद्धि के लिए केंद्र सरकार पर अजीब आरोप लगाया। उन्होंने कहा-कोरोना महामारी से निपटने में केंद्र की मोदी सरकार पूरी तरह से विफल है। जनता का ध्यान भटकाने के लिए वह पेट्रोल और डीजल के मूल्य में वृद्धि कर रही है। विरोध प्रदर्शन के दाैरान कांग्रेसियों में कोरोना का खौफ नहीं दिखा। वह प्रदर्शन के दाैरान फोटो सेशन कराने के लिए एक-दूसरे के साथ धक्का-मुक्की करते दिखे। शरीरिक दूरी के नियमों की धज्जी उड़ा दी। हाथों में तख्तियां लेकर मोदी सरकार हाय-हाय और मोदी तेरा कैसा खेल, प्रतिदिन महंगा हो रहा तेल का नारा लगाया। प्रदर्शन का नेतृत्व कांग्रेस जिलाध्यक्ष ब्रजेंद्र प्रसाद सिंह कर रहे थे। ब्रजेंद्र सिंह ने कहा मोदी जी ने सत्ता में आने से पहले हसीन सपने दिखाए थे। आज देश के कई इलाके में डीजल व पेट्रोल को पीछे छोड़ते हुए 80 रुपये प्रति लीटर हो गया है।

स्पेशल ट्रेनों के लिए तत्काल टिकट की बुकिंग शुरू

भारतीय रेलवे ने सोमवार से स्पेशल राजधानी समेत सभी स्पेशल ट्रेनों के लिए तत्काल टिकटों की बुकिंग शुरू कर दी। तत्काल के सभी नियम पहले वाले ही बरकरार रखे गए हैं । इसमें कोई फेरबदल नहीं किया गया है। स्लीपर और एसी के लिए पहले जो टाइम निर्धारित किए गए थे, उसी समय पर कोई भी यात्री तत्काल टिकट की बुकिंग करा सकते हैं। काउंटर के साथ ई टिकट की भी तत्काल बुकिंग शुरू हो गई है। धनबाद आरक्षण काउंटर पर पहले दिन सिर्फ कोलकाता से अमृतसर जाने वाली दुर्गियाना एक्सप्रेस में तत्काल टिकट की बुकिंग हुई। अन्य ट्रेनों में तत्काल की बुकिंग नहीं हुई। तत्काल टिकट बुक नहीं होने से उसकी खाली सीटों का लाभ वेटिंग लिस्ट और आरएसी वाले यात्रियों को मिलेगा। रेलवे का मानना है कि जानकारी नहीं होने की वजह से तत्काल की बुकिंग कम हुई।

मुख्यमंत्री राहत कोष में धनबाद जिले ने किया 91 लाख 78 हजार 192 रूपये का सहयोग

वैश्विक महामारी कोविड-19 से लड़ने के लिए धनबाद जिले ने मुख्यमंत्री राहत कोष में 91 लाख 78 हजार 192 रूपये का सहयोग किया है। उपायुक्त अमित कुमार ने बताया कि कोरोनावायरस के विरुद्ध जारी संघर्ष में जिले के 147 निकासी एवं व्ययन पदाधिकारियों ने अपने कार्यकाल से संबंधित पदाधिकारी तथा कर्मचारियों के मई 2020 के वेतन से एक दिन के वेतन के बराबर की राशि सहयोग स्वरूप मुख्यमंत्री राहत कोष में दी है। उपरोक्त सहयोग राशि को स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में मुख्यमंत्री राहत कोष के एकाउंट में जमा करा दिया गया है। उपायुक्त ने मुख्यमंत्री राहत कोष में सहयोग प्रदान करने वाले सभी पदाधिकारियों और कर्मचारियों के प्रति आभार व्यक्त किया है।

पत्नी को कमरे में बंद कर बीसीसीएलकर्मी ने लगाई फांसी

धनबाद के भूली टाउनशिप के डी ब्लॉक स्थित क्वार्टर में बीसीसीएलकर्मी मेघनाथ प्रधान ने सोमवार सुबह फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। आत्महत्या करने से पहले बीसीसीएलकर्मी ने अपनी पत्नी को एक कमरे में बंद कर दिया। इसके बाद किचन में जाकर डिश के तार को फंदा बनाकर लटक गया। घटना के समय बीसीसीएलकर्मी का बेटा राहुल ताइक्वांडो खेलने गया था। वह पहुंचा तो लोगों ने कहा कि तुम्हारे घर वाले दरवाजा नहीं खोल रहे हैं। अंदर से आवाज आ रही है। कूदकर बालकनी के अंदर जाकर देखा तो राहुल के पिता डिश के तार के सहारे झूल रहे थे। यह नजारा देख मानव राहुल चीख उठा। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने पहुंचकर शव को नीचे उतारा। इसके बाद पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया।  मेघनाथ प्रसाद मूल रूप से छत्तीगढ़ का निवासी था। कहा जा रहा है कि उसने कर्ज लेकर छत्तीसगढ़ में घर बनाया था। घर को रिश्तेदारों ने हड़प लिया। इससे वह मानसिक रूप से दबाव में था। इस कारण पिछले एक साल से ड्यूटी जाना भी छोड़ दिया था। इसे आत्महत्या का कारण बताया जा रहा है।

आरटी -पीसीआर जांच में भी नर्स निकली निगेटिव, सदर अस्पताल से छुट्टी

निरसा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की नर्स की दूसरी रिपोर्ट भी निगेटिव आ गई है। इससे पहले ट्रू नेट मशीन में उसकी रिपोर्ट नेगेटिव थी। इसके बाद नर्स का स्वाब पीएमसीएच के आरटी-पीसीआर मशीन में भेजी गई। अब इस मशीन से भी जांच रिपोर्ट निगेटिव आई। इसके बाद नर्स को सदर अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। हालांकि नर्स को निरसा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के पास क्वार्टर  में 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन पर रखा गया है। इसके बाद ही नर्स अपनी ड्यूटी ज्वाइन कर सकती है या अपने मूल घर आसनसोल जा सकती है। निरसा के चिकित्सा पदाधिकारी कोलकाता जाने के क्रम में नर्स के पास रुके थे। कोलकाता से धनबाद लौटने के बाद डॉक्टर कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे। इसके बाद उनके परिवार के साथ लोग संक्रमित हुए। इसी को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग में नर्स की जांच कराई। हालांकि नर्स को लेकर 3 दिनों तक स्वास्थ्य विभाग को भारी कठिनाई का सामना करना पड़ा। नर्स अपनी जांच नहीं करवाना चाह रही थी। वह एक बार सदर अस्पताल से भाग गई थी। 

Posted By: Mritunjay

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस