धनबाद/रांची, जेएनएन। झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) की केंद्रीय समिति ने धनबाद महानगर अध्यक्ष देबू महतो को पद से हटा दिया। केंद्रीय महासचिव विनोद पांडेय ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि देबु के खिलाफ केंद्रीय समिति सदस्यों के नाम पर भयादोहन करने की शिकायत मिल रही थी। इसी के मद्देनजर सात दिन के अंदर स्पष्टीकरण देने को कहा गया है। ऐसा नहीं होने पर देबू के खिलाफ संगठन की ओर से अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। इधर, देबु ने कहा कि वे सामाजिक कार्य करते रहे हैं और आगे भी करते रहेंगे। वे जल्द ही पार्टी को अपना जवाब भेज देंगे।

बता दें कि अभी हाल ही में धनबाद महानगर अध्यक्ष ने राज्य कर विभाग के सहायक आयुक्त के क्वार्टर पर कब्जा किया है। 24 मार्च को लॉकडाउन होने के बाद जरूरतमंद लोगों को दाल भात खिलाने के नाम पर झामुमो नेता ने बंद क्वार्टर का ताला तोड़ दिया। शुरुआत में कुछ दिनों तक क्वार्टर में दाल भात का वितरण किया गया। अब वो बंद है। क्वार्टर पर कब्जा किये जाने की राज्य कर विभाग ने जांच भी करायी है। हालांकि, अभी तक जांच रिपोर्ट नहीं दी गयी है। इसपर झामुमो नेता देबू महतो ने कहा था कि कोरोना के कोहराम के बीच गरीबों की सेवा के लिए क्वार्टर का उपयोग किया है। जब राज्य कर विभाग के लोग बोलेंगे तब इसे खाली कर देंगे।

दैनिक जागरण ने गुरुवार को सच जानने के लिए जब क्वार्टर का मुआयना किया तो वहां महानगर अध्यक्ष कुछ कार्यकर्ताओं के साथ मिले। कुछ ऐसे लोग भी आये थे जिन्होंने अपनी समस्याओं के समाधान के लिए देबू महतो से अनुरोध किया। दोपहर के करीब डेढ़ बजे न भोजन का वितरण हो रहा था, न तैयार भोजन दिखा। छोटे बर्तन में तनिक खिचड़ी थी जो ढकी भी नहीं थी। पेट भरने के लिए वहां कोई जरूरतमंद भी नहीं आया था। जर्जर क्वार्टर के भीतर उठने बैठने की व्यवस्था शानदार दिखी। गद्दा, तकिया, मसनद के साथ कालीन बिछायी गयी है। दरबार लगाने के लिए एक कमरे में कुछ कुर्सियां और मेज भी है।

Posted By: Sagar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस