धनबाद, जेएनएन। खनन, भूमिगत आग और भू-धंसान के कारण झरिया में जल दिन-प्रतिदिन गंभीर होता जा रहा है। यहां जलस्तर पाताला में समा गया है। ओवरबर्डन के लिए बच्चे-खुचे तालाब और पोखर की भी बलि ली जा रही है। ओसीपी का ओवरबर्डन आसपास के तालाब और पोखर में गिरा दिया जाता है। धीरे-धीरे तालाब गायब हो जाते हैं। मोहलबनी स्थित जलाशय में भी इन दिनों ओबरवर्डन गिराया जा रहा है। इससे इसके अस्तित्व पर संकट छा गया है। इसे बचाने के लिए झरिया की विधायक पूर्णिमा नीरज सिंह एक आंदोलनकारी की तरह नजर आईं हैं। उन्होंने ट्विटर पर जलाशय के बीच पत्थर के टीले पर खड़ी अपनी कुछ तस्वीरें शेयर की हैं। साथ ही दावा किया है कि उनके प्रयास से बीसीसीएल ने जलाशय में ओबरबर्डन डालना बंद कर दिया है। हालांकि अब भी बड़ा सवाल यह है कि क्या मोहलबनी जलाशय बचेगा ? इस जलाशय में आसपास के लोग स्नान करते हैं। इलाके में जलस्रोत का यह एक बड़ा केंद्र है। 

कांग्रेस विधायक पूर्णिमा नीरज सिंह ने  मोहलबनी जलाशय में बीसीसीएल की ओर से डंप किए जा रहे ओवरबर्डन को रोक दिया। इस मसले पर बीसीसीएल प्रबंधन से भी वार्ता की। इसके बाद विधायक ने बकायदा अपने ट्विटर हैंडल पर इसे पोस्ट भी किया। उन्होंने लिखा कि स्वच्छ जल और  पर्यावरण के लिए तरसती झरिया में मोहलबनी का यह जलाशय एक मरुद्यान सा प्रतीत होता है। वस्तुतः यह जलाशय है किंतु समतल होने के कारण निकट के अधिकांश लोग इसके पानी का इस्तेमाल करते हैं। पिछले सप्ताह यहां से गुजरते हुए इस जलाशय में ओवरबर्डन की डम्पिंग होते हुए देखा तो स्तब्ध रह गयी। डम्पिंग से जलाशय के अस्तित्व को किसी भी हाल में आंच आने देना अस्वीकार्य था। तत्काल डम्पिंग को रुकवाया और जानकारी से पता चला की कम्पनी ने सर्वे कर स्थल डम्पिंग के लिए चिन्हित किया है। त्वरित ही इस पर कार्यवाही के लिए बीबीसीएल के तकनीकी निदेशक से मिलकर उन्हें समस्या से अवगत कराया। निदेशक ने फिर से अपनी टीम को सर्वे और वार्ता के लिये भेजा।

विधायक ने दावा किया है कि एक हफ्ते तक चली इस समस्या का अंततः समाधान निकला और आज हम सिर्फ़ इस जलाशय के अस्तित्व को बचाने में सफल ही नहीं हुए, बल्कि बीसीसीएल ने आसपास की भूमि को समतल कर पौधारोपण भी करवाने का आश्वासन दिया। कम्पनी की पर्यावरण के प्रति मनमाने रवैये को बदलना ही होगा और मापदंडों का सख्ती से पालन करना ही होगा।

Posted By: Mritunjay

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस