धनबाद, जेएनएन। झाविमो का भाजपा में विलय को लेकर पूरी तस्वीर साफ हो चुकी है। ऐसे में झाविमो से जुड़े नेता अब अपनी जगह अन्य दलों में तलाशने लगे हैं। पार्टी के विधायक प्रदीप यादव और बंधु तिर्की ने कांग्रेस में जाने का संकेत दे दिया है। वहीं, पूर्व मंत्री डॉ. सबा अहमद अपनी प्राथमिकता तय कर रहे हैं। राष्ट्रीय जनता दल (राजद) सुप्रीमो लालू यादव ने सबा को अपनी पार्टी में आने का निमंत्रण दिया है। वहीं प्रदीप यादव ने डॉ. सबा को कांग्रेस में साथ चलने का आग्रह किया है। 

मंगलवार को रांची में संपन्न हुई बैठक के बाद बाबूलाल मरांडी ने झाविमो का भाजपा में विलय की घोषणा कर दी गई। इस घोषणा से धनबाद के रमेश राही और सरोज सिंह जैसे नेता बाबूलाल मरांडी के साथ हैं तो डॉ. सबा अहमद, राजीव शर्मा, दिलीप चौधरी जैसे नेताओं ने अपना राजनीतिक करियर तलाशना शुरू कर दिया है। अब जो नेता व कार्यकर्ता बाबूलाल मरांडी के साथ नहीं गए हैं। वे डॉ. सबा अहमद के फैसले का इंतजार कर रहे हैं।

डॉ. अहमद ने कहा कि किसी पार्टी में जाने का निर्णय बहुत ही सोच समझ कर लेना है। हालांकि उनकी प्राथमिकता सूची में राजद, कांग्रेस और झामुमो भी है। उन्होंने बताया कि लालू यादव की ओर से भी राजद में शामिल होने का आमंत्रण आया है तो दूसरी ओर प्रदीप यादव व बंधू तिर्की ने कांग्रेस में साथ चलने का आग्रह किया है। डॉ. अहमद ने कहा कि सेक्यूलर विचारधार की पार्टियों के साथ ही वे रहेंगे। 

Posted By: Sagar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस