Move to Jagran APP

मध्य प्रदेश की चुनावी रणनीति झारखंड में आजमा रहे VD Sharma, आदिवासियों के इलाकों से हैं वाकिफ

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा के रणनीतिकारों में विष्णु दत्त शर्मा भी शामिल रहे हैं। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की पृष्ठभूमि से भाजपा में आए शर्मा को बूथों की संरचना और वहां सक्रिय कार्यकर्ताओं को जीत के फॉर्मूले से जोड़ना खूब आता है। 2014 के चुनावों में झारखंड के संताल में भी कैंप कर रणनीति बनाई थी। वह आदिवासियों इलाकों से वाकिफ हैं।

By Pradeep singh Edited By: Shashank Shekhar Published: Tue, 28 May 2024 01:40 PM (IST)Updated: Tue, 28 May 2024 01:40 PM (IST)
मध्य प्रदेश की चुनावी रणनीति झारखंड में आजमा रहे VD Sharma, आदिवासियों के इलाकों से हैं वाकिफ (फोटो- जागरण)

प्रदीप सिंह, देवघर। मध्य प्रदेश में हाल ही में संपन्न हुए विधानसभा चुनावों में भाजपा के रणनीतिकारों में वीडी शर्मा भी शामिल रहे हैं। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की पृष्ठभूमि से भाजपा में आए शर्मा को बूथों की संरचना और वहां सक्रिय कार्यकर्ताओं को जीत के फॉर्मूले से जोड़ना खूब आता है।

यही वजह है कि भाजपा ने अपने इस रणनीतिकार को झारखंड की जटिल राजनीतिक परिस्थितियों वाले संताल परगना प्रक्षेत्र में भी उतारा है। यहां की तीन सीटों गोड्डा, दुमका और राजमहल में अंतिम चरण में मतदान होना है। शर्मा देवघर को केंद्र बनाकर काम कर रहे हैं और उसी तरीके से अपनी मुहिम को मंजिल तक पहुंचाने के प्रयास में लगे हैं, जैसा मध्य प्रदेश में किया था।

सुबह से देर रात तक वे चुनावी इलाकों के जटिल मतदान केंद्रों की स्थिति को समझते हैं और उसी अनुरूप वहां सक्रिय भाजपा कार्यकर्ताओं के फीडबैक के आधार पर काम करने की सलाह देते हैं। लोकसभा चुनाव के छह माह बाद होने वाले विधानसभा चुनाव पर भी उनकी नजर है। उल्लेखनीय है कि पिछले विधानसभा चुनाव में संताल परगना में भाजपा को गठबंधन ने पीछे धकेल दिया था।

हमने 64523 बूथों को डिजिटली जोड़ा- वीडी शर्मा

शर्मा बताते हैं कि मध्य प्रदेश में भी ऐसी ही चुनौतियां थी। शुरुआत में ऐसा माहौल बनाया गया कि भाजपा के पक्ष में चुनाव परिणाम नहीं होगा। इसे हमने गंभीरता से लेते हुए 64523 बूथों को डिजिटली जोड़ा। इससे 41 लाख कार्यकर्ता संबद्ध थे। इनको सीधे जोड़कर बूथ विजय का अभियान चलाया। कार्य निर्धारित किए गए। संभागों के सम्मेलन हुए। देखते ही देखते माहौल बदल गया। संगठन की ताकत को बढ़ाकर सरकार बनाने का सपना साकार हुआ। सारे मिथक मध्यप्रदेश में टूट गए।

'बतानी होगी सच्चाई, भ्रष्टाचार पर हमारा प्रहार'

वीडी शर्मा कहते हैं कि झारखंड में भी यही धारणा बनाई जा रही है कि एक आदिवासी नेता को भाजपा ने जेल भेज दिया। हम बता रहे हैं कि एक भ्रष्टाचारी को जेल भेजा गया है। यही हमारी ताकत भी है। दुमका, गोड्डा और राजमहल को ही देखना होगा। मोदी के विकास और गरीब कल्याण के कार्यक्रम हमारी मजबूती हैं।

उन्होंने कहा कि लोगों तक बताना है कि कांग्रेस और उसके घटक दल जब आमने-सामने की लड़ाई में खुद को सक्षम नहीं पा रहे हैं तो वे आरक्षण समाप्त करने और संविधान बदलने संबंधी भ्रामक बातें फैला रहे हैं। जबकि सच्चाई यह है कि कांग्रेस ने ही संविधान को सबसे ज्यादा बार बदला है। इन्होंने देश में आपातकाल लागू किया। देश में लोकतांत्रिक मूल्यों पर सबसे ज्यादा प्रहार कांग्रेस ने किया।

'विधानसभा चुनाव में भी मिलेगी सफलता'

झारखंड में छह माह बाद होने वाले विधानसभा चुनाव को वीडी शर्मा बड़ा अवसर बताते हैं। वह कहते हैं कि संगठन को निचले स्तर तक सक्रिय कर लक्ष्य को पाया जा सकता है। लोकसभा चुनाव में इसका बड़ा पूर्वाभ्यास हो चुका हो रहा है। छह माह बाद हो रहे चुनावों में इससे मदद मिलेगी।

उन्होंने कहा कि झारखंड में भाजपा के शासनकाल में विकास के कार्य हुए। कांग्रेस, झारखंड मुक्ति मोर्चा जैसे दलों ने अपने राजपाट में सिर्फ भ्रष्टाचार किए। आज वे उनका खामियाजा भुगत रहे हैं। इस सच्चाई को लोगों तक पहुंचाने का काम भाजपा कर रही है।

ये भी पढ़ें- 

Pension Scheme : कैसे हो गुजारा? तीन महीने से नहीं मिला पेंशन, 40 लाख लोग लगा रहे बैंक के चक्कर

सीता सोरेन हैं अवसरवादी... मिथिलेश ठाकुर के बयान पर दुमका से BJP उम्‍मीदवार का पलटवार, JMM को लेकर कह दी ये बात


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.