देवघर : जिला क्रिकेट लीग के बी डिविजन के एक मुकाबले में देवघर हेल्थ क्लब की टीम ने मां मनसा क्रिकेट क्लब की टीम पर 232 रनों से विशाल जीत दर्ज की। इस मैच में टॉस जीतकर देवघर हेल्थ क्लब की टीम ने पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया। उनकी टीम ने शुरू से ही ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की और 20 ओवर में पांच विकेट के नुकसान पर 302 रनों का पहाड़ सा स्कोर खड़ा कर दिया।

वहीं मां मनसा क्लब की ओर से प्रीत ने तीन विकेट लिए। लक्ष्य का पीछा करने उतरी मां मनसा क्लब के बल्लेबाज महज 70 रन ही बना सके। सुपर डिविजन के एक मुकाबले में कैंट की टीम ने सनसाइन को 70 रनों से हराकर लगातार दूसरी जीत दर्ज की। इस मैच में टॉस कैंट की टीम ने जीता और पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया। उनकी टीम ने निर्धारित 40 ओवर में आठ विकेट के नुकसान पर 224 रनों का सम्मानजनक स्कोर खड़ा किया। लक्ष्य का पीछा करने उतरी सनसाइन की पूरी टीम 35 वें ओवर में 154 रनों पर ही आउट हो गई। जबकि बी डिविजन के एक मुकाबले में मां मनसा टू की टीम ने डीसीए व्हाईट पर 10 विकेट से आसान जीत दर्ज की। इस मैच में टॉस मां मनसा टू की टीम ने जीता और पहले गेंदबाजी करने का निर्णय लिया। उनका ये फैसला पूरी तरह से सफल साबित हुआ और डीसीए की पूरी टीम महज 30 रनों पर ही आउट हो गई। डीसीए की ओर से पियूष एकमात्र बल्लेबाज था जिसने दो अंकों का आंकड़ा पार करते हुए 12 रन बनाए। बी डिविजन के तीसरे मुकाबले में आज डीएवी की टीम ने डीसीए येलो की टीम पर तीन विकेट से जीत दर्ज की। इस मैच में डीसीए की टीम ने टॉस जीता और पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया। उनकी टीम ने सात विकेट के नुकसान पर 206 रनों का सम्मानजनक स्कोर खड़ा किया। उनकी टीम ने सात विकेट के नुकसान पर 22 ओवर में ही जीत दर्ज कर ली। उनकी ओर से संभव ने शानदार नाबाद 82 रनों की पारी खेली।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस