पिपरवार में दो मासूम बच्चियों की मौत और एक बच्चे के गंभीर रूप से घायल होने की घटना से इलाके के लोगों में भारी आक्रोश है। विभिन्न संगठन व समुदाय अपने-अपने तरीके से घटना पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे हैं। कहीं श्रद्धांजलि सभा हो रही। कहीं कैंडल मार्च निकाला जा रहा। कहीं संगोष्ठी का आयोजन कर घटना की निंदा की जा रही है। इसमें शैक्षणिक, सामाजिक व मानवाधिकार संगठन के लोग हिस्सा ले रहे हैं।

फोटो:- 14 खलारी 01:- श्रद्धाजलि देती उर्सुलाइन की प्राचार्या सिस्टर जयंती व छात्र-छात्राएं।

-----

-उर्सुलाइन कान्वेंट में दी गई श्रद्धाजलि

- संसू, खलारी : पिपरवार की घटना में मरने वाली दो मासूम बच्चियों की याद में उर्सुलाइन कॉन्वेंट स्कूल खलारी में श्रद्धांजलि सभा हुई। घटना पर दुख और गुस्सा व्यक्त किया गया। स्कूल की छात्राएं श्रेयाशी सिंह एवं खूबी झा ने अपने विचार रखे। विद्यालय की प्राचार्या सिस्टर जयंती ने बच्चियों की आत्मा की शांति के लिए श्रद्धांजलि दी। शोक सभा में सिस्टर संध्या, सिस्टर सुसाना, रणधीर सिंह, अनिमा कासीर, आरती प्रसाद, प्रभाकर शर्मा, अम्बुज कर्मकार, आरती तिर्की, प्रवीण चंद्रा, अलका राही, प्रेमी होरो समेत सभी शिक्षक-शिक्षिकाएं एवं व छात्र-छात्राएं मौजूद रहीं।

बच्चों को आदर्श और नैतिक ज्ञान की दें जानकारी

फोटो:- 14 खलारी 02:- बैठक करते विकास मंच व परिशद के लोग।

संसू, खलारी : अंबेडकर सद्भावना विकास मंच एवं झारखंड नागरिक विकास परिषद की संयुक्त बैठक गुलजारबाग स्थित साईनगर में हुई। अध्यक्षता बादल तुरी ने की। बैठक में मुख्य रूप से देश में बच्चियों की सुरक्षा एवं खलारी की घटना पर दुख व्यक्त किया गया। कहा गया कि इसके लिए सामाजिक जागरूकता जरूरी है। बैठक में माया देवी, अरुण कुमार पासवान, सरोज चौधरी, अनिता एक्का, रवींद्रनाथ चौधरी, बसंत सिंह चारो, आनंद तुरी, मुकेश ऋषि, शशि कुमार, रवि राम, बलवंत कुमार मिश्रा, सूरज राम, राजा राम, विजय मुंडा, सिंधु पासवान, उतरा कुमार, अमरलाल सतनामी, राजू पासवान, अशोक रवि आदि उपस्थित रहे

-----

कैंडल मार्च निकालकर दी गई श्रद्धांजलि

फोटो:- 14 खलारी 03:- श्रद्धाजलि देते जिप सदस्य अब्दुल्ल अंसारी व ग्रामीण।

संसू, खलारी : पिपरवार में हुई मासूम बच्चियों की हत्या के विरोध में कैंडल मार्च निकाला गया। जिप सदस्य अब्दुल्ला अंसारी के नेतृत्व में मार्च निकाला गया। कैंडल मार्च भूतनगर से निकलकर डकरा दुर्गा मंडप तक गया। मारी गई एक बच्ची का ननिहाल भूतनगर में है। बच्ची के ननिहाल में भी मातम छाया रहा। दोषियों को सजा व पीडि़त परिवार को मुआवजे के रूप में नौकरी की मांग की गयी। प्रशासन से नशीली वस्तुओं की बिक्री पर रोक लगाने की मांग की गयी। कैंडल मार्च में सुनील सिंह, शशि तूरी, भुवनेश्वर तुरी, सलामत अंसारी, अनिल साव, क्रांति तुरी, फिरोज अंसारी, बबलू कुजूर, विकास लोहरा, अनूप साव, राजेश कुमार, सोनू तूरी, मुस्लिम अंसारी, सोनू ठाकुर, उपेंद्र ठाकुर, मुस्तफा अंसारी, राहुल शर्मा, सुरेश तूरी, आनंद दूबे, सीटू अंसारी, छोटू ठाकुर, अंकुश तूरी आदि मौजूद रहे।

---

दुष्कर्म, यौन शोषण व हत्या जैसी घटनाओं के पीछे मानसिक विकृति बड़ी वजह

फोटो:- 14 खलारी 04:- शोकसभा में उपस्थित बच्चे एवं शिक्षक।

खलारी : नीलाबंर पीताबंर सन-शाइन इंग्लिश मीडियम स्कूल जामडीह में शोकसभा का आयोजन किया गया। पिपरवार में मारी गई बच्चियों की आत्मा की शाति के लिए दो मिनट का मौन रखा गया। प्राचार्या अनिता एक्का ने कहा कि दुष्कर्म, यौन शोषण व हत्या जैसे अपराध के पीछे मानसिक विकृति भी एक बड़ी वजह है। शोकसभा में मुख्य रूप से अनिता कुमारी, सुनीता टोप्पो, अनिता तिग्गा, बसंती देवी, प्रतिमा कुमारी सहित विद्यालय के छात्र-छात्राएं उपस्थित रहीं।

---

पीड़ित परिवार की फोटो सोशल मीडिया में वायरल न करें

खलारी : पिपरवार में मारी गई बच्चियों, घायल बच्चे व पीड़ित परिवार की फोटो सोशल मीडिया में वायरल न करें। ऐसा करना जुवेनाइल जस्टिस एक्ट के सेक्शन 74 का उल्लंघन करना होगा। यह अपराध है। आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया जा सकता है। मानवाधिकार प्रशासन के सचिव मुन्नू शर्मा ने ने कोयलाचल में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान यह जानकारी दी।

---

सरस्वती विद्या मंदिर में मातृ सम्मेलन का आयोजन

फोटो:- 14 खलारी 05:- मातृ सम्मेलन में उपस्थित माताएं।

खलारी-डकरा : सरस्वती शिशु विद्या मंदिर डकरा में मातृ सम्मेलन का आयोजन किया गया। मातृ सम्मेलन में मुख्य अतिथि के रूप में डकरा सेंट्रल अस्पताल के मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. प्रतिभा कुमारी उपस्थित थी। विद्यालय के प्राचार्य गोपाल मिस्त्री विश्वकर्मा ने मातृ सम्मेलन एवं मातृ भारती पर प्रकाश डाला। डॉ. प्रभा कुमारी ने कहा कि नारी को प्रताड़ित किया जाता रहा है। कार्यक्रम के दौरान भारती टीम का गठन भी किया गया। शिक्षिका अनिता सिंह ने धन्यवाद ज्ञापन दिया। संचालन शिक्षिका सरिता देवी ने किया। इस अवसर पर डकरा के विभिन्न क्षेत्रों से आई माताएं एवं विद्यालय की शिक्षक-शिक्षिकाएं उपस्थित थीं।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस