चंद्रपुरा थाना क्षेत्र अंतर्गत मकोली स्थित बंद सात नंबर खदान में सोमवार को नहाने गए दो छात्रों की मौत डूबने से हो गई। स्थानीय गोताखोर की मदद से काफी मशक्कत के बाद दोनों का शव बाहर निकाल लिया गया। छात्रों की पहचान सेंट्रल कालोनी निवासी 13 वर्षीय गणेश शर्मा एवं 14 वर्षीय आर्यन कुमार के रूप में हुई। घटना के बारे में मृतक छात्रा गणेश के भाई संतोष ने बताया कि हम चार दो दोस्त, सुमित, संतोष, आर्यन और गणेश जंगल में बैर खाने गए थे। बैर खाने के बाद खदान में नहाने चले गए। जहां आर्यन और गणेश पानी के बाहर ही पत्थर पर बैठे थे, सुमित और मैं नहाने के लिए पानी में उतरे ही थे कि सुमित गहरे पानी में डूबने लगा। सुमित को बचाने के लिए आर्यन और गणेश ने पास में पड़े बांस को पकड़े के लिए फेंका। बांस पकड़ कर सुमित बाहर ही आ रहा था कि अचानक भाई गणेश और आर्यन पानी में गिर गए और डूबने लगे। हम लोग गणेश और आर्यन को बचाने के लिए खदान के बाहर शोर मचाते हुए भागे। जबतक स्थानीय लोग पहुंचे दोनों पानी में डूब चुके थे। स्थानीय गोताखोर दशरथ, सुनील, मारकंडी, कंदन, गौरव एवं अवधेश आर्यन व गणेश का शव निकालने के लिए लगातार डटे रहे। घटना के बाद करीब डेढ़ घंटे बाद गणेश व आर्यन का शव तीन घंटे बाद निकाला। वहीं दोनों के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। वहीं मां का कहना है कि अगर आज छुट्टी होती तो बेटे की जान बच जाती है। आर्यन सातवीं व गणेश पांचवी डीएवी ढोरी का छात्र था। घटना के बाद पुलिस ने शव का पंचनामा कर परिजनों को सौंप दिया। वहीं घटना के बारे में

घटना की सूचना मिलते ही इंटक सचिव कुमार जयमंगल सिंह घटना स्थल पर पहुंच परिजनों को ढांढस बंधाया। परिजनों को आर्थिक सहयोग करते हुए अपने निजी मद से बीस-बीस हजार रुपये देने की बात कही। एवं बेरमो विधायक राजेंद्र प्रसाद सिंह से पत्राचार कर सरकारी सहायता उपलब्ध कराने का भरोसा दिया है। जयमंगल सिंह ने कहा कि सीसीएल प्रबंधन से वार्ता कर सभी बंद खदानों की सुरक्षा के लिए बैरकेटिग करवाने की पहल की जाएगी ताकि भविष्य में ऐसी घटना दोबारा नहीं हो। मौके पर सीओ मनोज कुमार, बीडीओ प्रवीण चौधरी, थाना प्रभारी केके साहू सहित बेरमो व चंद्रपुरा पुलिस के जवान मौजूद थे।

---------------

कई बार हो चुकी है घटना : बेरमो कोयलांचल में बंद खदानों में अक्सर डूबने से मौत की घटना होती रहती है। पिछले कई सालों में एक दर्जन से अधिक मौतें हो चुकी हैं। पिछले साल इंजीनियरिग के छात्र अजय चौधरी की मौत जरीडीह बाजार स्थित बंद खदान के पानी में डूबने से हुई थी। वहीं बोकारो कोलियरी की बंद खदान में कृष्ण सुदर्शन हाईस्कूल के छात्र अक्षय कुमार शर्मा की मौत डूबने से हो गयी थी। चार साल पहले रामविलास हाईस्कूल के सामने की खदान के पानी में स्थानीय तिरहुतनगर के धनंजय सिंह, अश्विनी सिंह एवं सुनील सिंह के पुत्रों की एक साथ डूबने से मौत हो गई थी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस