संस, चापी (बेरमो) : पेटरवार प्रखंड के पतकी पंचायत के चिनियागढ़ा निवासी मकचन्द तुरी के पुत्र दीपक कुमार तुरी (21 वर्ष) और रामगढ जिला के मांडू थाना क्षेत्र निवासी जूठन तुरी कीेपुत्री पूनम कुमारी (20 वर्ष) बुधवार को पुलिस की पहल पर परिणय सूत्र में बंध गए। तेनुघाट ओपी के एएसआई राजेश कुमार ¨सह की देखरेख में तेनुघाट बिरसा चौक स्थित शिव मंदिर में दोनों का विवाह संपन्न कराया गया।

दीपक और पूनम ने बताया कि पिछले 9 माह से दोनों शादी के लिए प्रयासरत थे। बीते 11 सितंबर को पूनम अपने घर से दीपक के घर चले आई थी। रात्रि में दीपक के साथ रहने के बाद दोनों के बीच किसी बात को लेकर आपसी विवाद होने पर दूसरे दिन सुबह पूनम तेनुघाट डैम आत्महत्या करने पहुंच गई, जिसे डैम के सुरक्षा कर्मियों ने पकड़ कर तेनुघाट ओपी पुलिस को सुपुर्द कर दिया। बाद में एएसआई राजेश कुमार ¨सह ने पूनम के मामले की छानबीन कर सभी बातों का खुलासा किया। इसके बाद पुलि ने फोन कर लड़का के परिजन को बुला कर जानकारी दी गई, तो लड़का पक्ष शादी के लिये राजी हो गया । इस मौके पर दीपक की मां शकुंतला देवी, भाई रोहित तुरी और आस पड़ोस के सैकड़ों लोगों की उपस्थिति में शादी रचाई गई।

Posted By: Jagran