दुगदा : चंद्रपुरा प्रखंड के अंतर्गत कुरुम्बा पंचायत के बांधडीह स्थित नवनिर्मित बजरंगबली मंदिर में पांच दिवसीय श्री श्री 108 संकट मोचन मारुति नंदन प्राण प्रतिष्ठा सह रामचरितमानस महायज्ञ कलश यात्रा के साथ शुरू हुआ, जिसमें कोरोना महामारी के कारण सरकार के दिशा निर्देश का पालन करते हुए शारीरिक दूरी, मास्क व सैनिटाइजर का प्रयोग किया। दस दस की संख्या में कन्याएं एवं महिलाएं सुबह चार बजे कलश यात्रा लेकर निकलीं। कलश यात्रा दामोदर नदी के बुढ़ीडीह घाट पहुंचा जहां अयोध्या एवं बनारस से आए यज्ञाचार्य छोटे सरकार शास्त्री,मनदीप शास्त्री ने कलशों में वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ जल भरवाकर कलश यात्रा सुबह पांच बजे वापस यज्ञ मंडप पहुंची, जहां कलश को स्थापित कराया गया। यज्ञ मंडप में मुख्य यजमान मोती लाल महतो, एवं प्यारेलाल महतो है। यज्ञ मंडप में आचार्य गण ने वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ पूजा अर्चना कर रहे हैं। कोरोना महामारी को देखते हुए शाम 6 बजे तक मुख्य यजमान, आचार्य समेत, 10 से 11 की संख्या में श्रद्धालुओं उपस्थित होकर पूजा अर्चना कर रहे हैं। यज्ञ समिति के अध्यक्ष ने बताया कि इस महायज्ञ में होने वाली कोलकाता की झांकी, रथ यात्रा द्वारा निकाली जानी थी। अयोध्या की साध्वी मानस देवी साक्षी जी का राम चरित मानस प्रवचन एवं पंकज दुबे का जागरण कार्यक्रम होने वाली थी। कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सारे कार्यक्रम रद्द कर दिया गया। इस महायज्ञ को सफल बनाने में यज्ञ समिति के अध्यक्ष रोशन कुमार महतो, उपाध्यक्ष सुनील पांडेय, सचिव दामोदर महतो, कोषाध्यक्ष हरी लाल महतो, उप कोषाध्यक्ष बासुदेव महतो, अर्जुन महतो, सत्यनारायण महतो, बालदेव महतो, रूपेश महतो, रीतलाल महतो, संजय महतो, लालू महतो, एवं मंदिर के मुख्य पुजारी विकास पांडेय का सराहनीय योगदान रहा । प्रखंड के अंतर्गत कुरुम्बा पंचायत के बांधडीह स्थित नवनिर्मित बजरंगबली मंदिर में पांच दिवसीय श्री श्री 108 संकट मोचन मारुति नंदन प्राण प्रतिष्ठा सह रामचरितमानस महायज्ञ कलश यात्रा के साथ शुरू हुआ।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप