जागरण संवाददाता, बोकारो: नियोजन एवं प्रशिक्षण विभाग छात्राओं को हुनरमंद बनाएगा। इसके लिए चास में महिला आइटीआइ संस्थान व छात्रावास भवन का निर्माण किया गया है। छात्राएं आइटीआइ संस्थान में विभिन्न कोर्स का प्रशिक्षण हासिल कर सकेंगी।

मार्च से प्रारंभ किया जाएगा नया सत्र: महिला आइटीआइ संस्थान चास भवन व छात्रावास का निर्माण लगभग 10 वर्ष पूर्व किया गया था। इसके संचालन के लिए कोलकाता की एक कंपनी से करार किया गया था, लेकिन कंपनी विफल रही। इसके बाद विभाग की ओर से पुन: इसके संचालन को लेकर दूसरी कंपनी से करार किया गया। इसके तहत 25 सितंबर 2019 को महिला आइटीआइ संस्थान चास भवन का हस्तांतरण जीआइएमआइटी नई दिल्ली को किया गया। इसके बाद से ही कंपनी की ओर से इस संस्थान को प्रारंभ करने की दिशा में काम शुरू कर दिया गया। भवन परिसर की साफ-सफाई कराई गई है। विविध कोर्स से संबंधित कागजी कार्रवाई भी की जा रही है।

आसपास की छात्राओं को होगा लाभ: लगभग 10 वर्ष से बंद पड़े महिला औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान के शुरु होने से छात्राओं को काफी लाभ होगा। वे विभिन्न कोर्स में दाखिला लेकर प्रशिक्षण हासिल कर सकेंगी। जीआइएमआइटी के खुर्शीद ने कहा कि संस्थान के संचालन को लेकर काम चल रहा है। भवन को दुरुस्त कराया जा रहा है। मार्च माह से नए सत्र का शुभारंभ किया जाएगा। यहां छात्राएं विभिन्न कोर्स में प्रशिक्षण हासिल कर सकेंगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस