जागरण, संवाददाता, बोकारो : बोकारो स्टील इंप्लाइज को-ऑपरेटिव हाउस कंस्ट्रक्शन सोसाइटी लिमिटेड (को-ऑपरेटिव) का प्रबंधन शनिवार से जिला सहकारिता पदाधिकारी ने संभाल लिया है। उन्हें प्रभार ग्रहण करने का निर्देश निबंधक सहयोग समितियां राजेश कुमार पाठक ने गत 19 दिसंबर को दिया था। इसके बाद लगातार सहकारिता पदाधिकारी प्रबंध समिति के सचिव रास नारायण सिंह से प्रभार देने के लिए पत्राचार कर रहे थे। लगभग 15 दिन बीतने के बावजूद उन्होंने प्रभार नहीं दिया। इस वजह एसडीएम चास शशि प्रकाश सिंह ने प्रवीण रोहित कुजूर को इंवेटरी मजिस्ट्रेट नियुक्त करते हुए प्रभार दिलाने में सहयोग करने का निर्देश दिया। शनिवार को जब जिला सहकारिता पदाधिकारी राकेश कुमार सिंह को-ऑपरेटिव कार्यालय पहुंचे तो वहां सचिव नहीं मिले। साथ कार्यालय में भी उनके बारे में कोई सूचना नहीं मिली। इसके बाद मजिस्ट्रेट की उपस्थिति में उनके कार्यालय का ताला तोड़ा गया और एक-एक अभिलेख इंवेटरी बनाकर प्रभार लिया गया। प्रबंध समिति के निलंबन अवधी में समिति के कार्यों का संचालन जिला सहकारिता पदाधिकारी राकेश कुमार सिंह करेंगे।

----------------

क्या था मामला : बोकारो स्टील इंप्लाइज को-ऑपरेटिव हाउस कंस्ट्रक्शन सोसाइटी लिमिटेड (को-ऑपरेटिव) की सदस्या अनार देवी ने सीएम मार्च 2019 में शिकायत करते हुए सचिव एवं प्रबंध समिति के सदस्यों पर वित्तीय अनियमितता का आरोप लगाया गया था। इसमें प्लांट के हस्तांतरण, कर्मचारियों की नियुक्ति, क्लब के आवंटन का मामला शामिल था। इसके बाद इस शिकायत की जांच राज्य मुख्यालय ने चास एसडीएम को भेजा। इस मामले की जांच दो सदस्यीय समिति ने किया आरोपों को सही पाते हुए कार्रवाई की अनुशंसा निबंधक सहयोग समितियां को भेजा। जहां से पहले सचिव से कारण पृच्छा किया गया। संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर रजिस्टार ने प्रबंध समिति को निलंबित कर दिया।

-------------------------------

कोट :

रजिस्टार के निर्देश पर प्रभार ग्रहण करने की प्रक्रिया संपन्न की गई। इसकी सूचना मुख्यालय को भेजा दिया जाएगा। इसके बाद जो भी निर्देश प्राप्त होगा आगे की कार्रवाई की जाएगी।

राकेश कुमार सिंह, जिला सहकारिता पदाधिकारी

कोट :

पूरे मामले को लेकर अपील किया गया है। कार्यालय का ताला तोड़कर प्रभार लेना ठीक नहीं है। बोकारो स्टील को-ऑपरेटिव सोसाइटी अन्य सहयोग समितियों से अलग है। उन पर लगने वाला आरोप निराधार है।

रास नारायण सिंह, सचिव को-ऑपरेटिव सोसाइटी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस