जागरण संवाददाता, ऊधमपुर : कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच शुक्रवार दोपहर से एक बार फिर से ऊधमपुर में गैर जरूरी आवाजाही पर प्रतिबंध लागू हो गया। हालांकि बाजार में दुकानें खुली रहीं, मगर दोपहर को प्रतिबंध लागू होने की संभावना के चलते बाजार में खरीदारी के लिए भीड़ रही। वहीं, दोपहर को व्यापार मंडल ने शुक्रवार के अलावा शनिवार को भी बाजार खुला रहने का ऐलान किया। रविवार को बाजार बंद रहेगा या नहीं इसे लेकर शनिवार को स्थिति स्पष्ट होगी।

कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के मद्देनजर प्रदेश प्रशासन ने शनिवार से गैर जरूरी आवाजाही पर लगने वाले प्रतिबंधों को शुक्रवार दोपहर दो बजे से लागू करने का आदेश जारी कर दिया। इस आदेश के जारी होने के बाद ऊधमपुर में व्यापारियों व कारोबारियों में इस बार दुकानों के खुलने को लेकर असमंजस की स्थिति बन गई। यहां तक कि व्यापार मंडल को भी देर रात तक इस बारे में कुछ भी स्पष्ट नहीं हुआ था। असमंजस की स्थिति के बीच ऊधमपुर में बाजार सामान्य रूप से खुल गए, मगर इसके बाद दोपहर दो बजे दुकानें बंद होंगी या खुली रहेंगी, व्यापारियों से लेकर आम लोगों के बीच असमंजस बना रहा। रविवार तक दुकानें बंद हो जाएंगी, इस असमंजस के चलते लोग राशन, सब्जी व अन्य जरूरी सामान की खरीदारी करने के लिए बाजारों में निकल पड़े। इससे दोपहर दो बजे और उसके घंटे भर बाद तक बाजार में भीड़ का आलम रहा।

शुक्रवार को बाजार सामान्य दिनों की तरह रात को बंद हुए। वहीं, व्यापार मंडल ने ऐलान कर दिया कि शनिवार को भी बाजार खुलेंगे। रविवार और सोमवार बाजार बंद रहेंगे या नहीं इसे लेकर रविवार को फैसला होगा। इस बारे में व्यापार मंडल के अध्यक्ष जितेंद्र बरमानी ने कहा कि डीसी ऊधमपुर इंदु कंवल चिब ने संपर्क कर शनिवार रविवार को बाजार पूरी तरह से बंद रखने की बात कही, जिसे उन्होंने मना कर दिया। बरमानी ने कहा कि सोमवार को नागा के चलते बाजार में लोग आते ही नहीं हैं। पिछली बार सोमवार को दुकानें खोली गई थीं, मगर काम बिल्कुल नहीं था। उन्होंने कहा कि जम्मू सहित कई जगहों पर रविवार को नागा होता है। बरमानी ने कहा डीसी को स्पष्ट तौर पर कह दिया गया है कि शनिवार को भी बाजार में दुकानें खुलेंगी। बरमानी ने कहा कि रविवार और सोमवार को बाजार और दुकानें बंद रखने को लेकर फैसला रविवार को लिया जाएगा।

Edited By: Jagran