जागरण संवाददाता, ऊधमपुर : जिले के पर्यटन कार्यालय में पर्यटन अधिकारी की नियुक्त होने से व्यापारियों की समस्याएं कम होंगी और पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। यह बात ऊधमपुर होटल बार एवं रेस्टोरेंट एसोसिएशन के प्रधान विक्रम सिंह सलाथिया ने वीरवार को पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहीं।

सलाथिया ने ऊधमपुर में पर्यटन अधिकारी की नियुक्ति पर खुशी जताते हुए कहा कि एसोसिएशन ने जिले में पर्यटन अधिकारी नियुक्त करने की मांग काफी समय से कर रही थी। इसके चलते प्रदेश प्रशासन ने इसकी अहमियत देखते हुए जिला में पर्यटन अधिकारी की नियुक्ति की है। सलाथिया ने कहा कि वर्ष 1997 में जिला में पर्यटन विभाग ने राष्ट्रीय राजमार्ग पर पर्यटन कार्यालय खोला था। मगर किसी अधिकारी नियुक्त न होने की वजह से यह निष्क्रिय था।

सलाथिया ने कहा कि ऊधमपुर पर्यटन के लिहाज से महत्वपूर्ण क्षेत्र है, जहां पर पर्यटन की असीम संभावनाएं हैं। मगर दफ्तर होने के बावजूद पर्यटन अधिकारी के अभाव में पर्यटन स्थल पर्यटन मानचित्र पर आने व विकास से वंचित रहे हैं। पर्यटन के विकास के लिए पर्यटन अधिकारी का होना बेहद जरूरी था। उन्होंने कहा कि एसोसिएशन पर्यटन अधिकारी की तैनाती के लिए समय समय पर पूर्व प्रदेश प्रशासन और मौजूदा प्रशासन को ज्ञापन सौंप कर मांग करती रही है। उन्होंने पर्यटन अधिकारी की तैनाती के लिए उप राज्यपाल मनोज सिन्हा, सलाहकार बसीर अहमद खान, कमिश्नर सेक्रेटरी, पर्यटन निदेशक व जिला प्रशासन का आभार व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि सरकार के इस पहल से जिले में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा और स्थानीय लोगों को रोजगार के अवसर भी मिलेंगे। इस अवसर पर संजीव शर्मा, शाम लाल सहित अन्य मौजूद थे।