जागरण संवाददाता, ऊधमपुर :

रामबन पुलिस ने एटीएम पर लोगों के कार्ड बदल कर धोखाधड़ी कर उनके खातों से वैसे निकालने के आरोप में हरियाणा का तीन लोगों को पकड़ा है। उनके पास 15 बैंकों के चार दर्जन कार्ड, चुंबकिया कार्ड रीडर व 41 हजार रुपये की नगदी, फोन और सिम कार्ड बरामद किए हैं।

रामबन पुलिस थाना में रणजीत सिंह परिहार पुत्र केशव राम निवासी करोल रामबन ने लिखित शिकायत दर्ज कराई। जिसमें उसने बताया कि वह रामबन में एसबीआई के एटीएम बूथ पर नगदी निकलवाने गया था। इस दौरान तीन अज्ञात प्रवासी लोगों ने उसका एटीएम कार्ड बदल दिया। इस शिकायत के आधार पर रामबन पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी।

एसएचओ रामबन संदीप चाढ़क के नेतृत्व में पुलिस की टीम ने कड़े प्रयास करते हुए एटीएम कार्ड बदलने वाले तीन प्रवासी लोगों को पकड़ कर गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने गिरफ्तार आरोपितों की पहचान दीपक पुत्र कृष्ण निवासी महम, जिला, रोहतक, हरियाणा, जानी पुत्र जैल सिंह निवासी मोखरा, जिला रोहतक, हरियाणा व दिल्ली के सुल्तानपुरी इलाके में रहने वाले अजीत सिंह पुत्र राम किशन निवासी बरसी, तहसील बवानी खेड़ा, भिवावी हरियाणा बताई है।

पुलिस ने तीनों के पास से 15 विभिन्न बैंकों के 48 एटीएम कार्ड, 41 हजार रुपये नगद, 5 सिम कार्ड, तीन मोबाइल फोन और चुंबकीय कार्ड रीडर डिवाइस बरामद की है। उनके पास मिली कार को पुलिस ने जब्त कर लिया गया है।

पुलिस के मुताबिक आरोपित इस कार का प्रयोग अपराध करने के लिए आने जाने में प्रयोग करते थे। जांच के दौरान आरोपितों से बरामद कार्डों में से 32 एटीएम कार्डों के मालिकों से संपर्क किया गया। जिसमें से पांच एटीएम कार्ड मालिकों ने विभिन्न एटीएम बूथों पर अज्ञात लोगों द्वारा एटीएम कार्ड बदले जाने तथा अपने खातों में धोखाधड़ी से लेन-देन होने की पुष्टि की।

पुलिस के मुताबिक आरोपितों ने जम्मू जिले में दो लेन-देन किए हैं। जिसमें से पीड़ितों के खातों से 12,500 और 15,500 रुपये की राशि निकलवाई है। पुलिस इस मामले में और जांच कर रही है तथा गिरफ्तार आरोपितों से पूछताछ कर रही है। एटीएम धोखाधड़ी के इस मामले में सभी गिरफ्तारियां डीएसपी मुख्यालय प्रदीप सिंह सेन की निगरानी में की गई है।

Edited By: Jagran