जागरण संवाददाता, ऊधमपुर : शहर के ओमाड़ा मोड़ में चोरों ने बीती रात एक प्रोविजन स्टोर में चोरी की वारदात को अंजाम दिया है। चोरों ने दुकान से नकदी और सामान सहित कुल मिलाकर एक लाख रुपये की चोरी की है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच व कार्रवाई शुरू कर दी है। इस मामले में समाचार लिखे जाने तक चोर पुलिस गिरफ्त से बाहर थे।

इस बार चोरों ने ओमाड़ा मोड़ स्थित एक्स सर्विसमैन पीएस जम्वाल प्रोविजन स्टोर को अपना निशाना बनाया। ओमाड़ा मोड़ गुरुद्वारा के पास स्थित इस प्रोविजन स्टोर के मालिक पीएस जम्वाल ने बताया कि हमेशा की तरह वह रात को अपनी दुकान बंद कर घर गए थे। सुबह जब वह दुकान पर आए तो दुकान के ताले टूटे और दुकान खुली थी। दुकान के अंदर लाइटें भी जल रही थीं। अंदर देखा तो सिगरेट के पैकेट और चॉकलेट सहित अन्य सामान गायब था। इसके साथ ही दुकान में रखी 15 हजार रुपये की नकदी भी गायब थी।

उन्होंने फौरन इसकी सूचना ऊधमपुर पुलिस को दी। जिसके बाद पुलिस ने मौके पर पहुंच कर जांच शुरू की। पुलिस की एफएसएल टीम ने मौके पर पहुंच कर परिस्थिति जन्य साक्ष्य जुटाने के लिए जांच की, जिसमें उन्होंने दुकान में लगे बिजली के स्विच बोर्ड व अन्य स्थानों से फिगर प्रिट हासिल करने का प्रयास किया।

वहीं, पुलिस ने इस चोरी के मामले में कुछ हिस्ट्रीशीटरों के साथ संदिग्धों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। समाचार लिखे जाने तक पुलिस के हाथ कोई ठोस सुराग नहीं लगा है। सीसीटीवी कैमरों से मदद मिलने की उम्मीद

ओमाड़ा मोड़ में दुकान में हुई चोरी करने वालों की जानकारी देने में ओमाड़ा मोड़ में लगे सीसीटीवी कैमरों से मदद मिलने की उम्मीद है। ओमाड़ा मोड़ में जिस जगह चोरी हुई है, वहां से थोड़ी दूरी पर सीआरपीएफ कैंप है, जहां पर सीसीटीवी कैमरा लगा है। इसके अलावा पास ही एक निजी दुकान भी है, वहां पर भी सीसीटीवी कैमरा लगा है। इसके अलावा एक पेट्रोल पंप और बैंक भी है। संभव है कि इनके कैमरों से चोरी करने वालों का कुछ सुराग मिल सके। पुलिस ने सीसीटीवी कैमरों की फुटेज मांगी है। कड़ी सुरक्षा वाला क्षेत्र है घटना स्थल

जिस जगह पर प्रोविजन स्टोर में चोरी हुई है, वह कड़ी सुरक्षा वाला क्षेत्र है। दुकानदार के मुताबिक उसकी दुकान के बाहर पक्का थड़ा बना है। वहां पर अक्सर सुरक्षा बल के जवान बैठते हैं। इसके अलावा दुकान के पास से पुलिस अकादमी को रास्ता जाता है। इसके अलावा थोड़ी दूरी पर सैन्य प्रतिष्ठान भी है। ऐसे में इस जगह पर सुरक्षा काफी ज्यादा होती है। ऐसे सुरक्षित क्षेत्र में चोरी होना सुरक्षा में भी चूक है। कड़ी सुरक्षा वाले इस क्षेत्र में अगर कोई चोरी की वारदात को अंजाम दे सकता है तो किसी अन्य असामाजिक गतिविधि को भी अंजाम दे सकते हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप