जागरण संवाददाता, ऊधमपुर : ऊधमपुर थाना से सोमवार देर रात मादक पदार्थ की तस्करी के दो आरोपित और चोरी के मामले का एक संदिग्ध थाना के सुरक्षा प्रबंधों को धता बताते हुए फरार हो गए। तीन लोगों के फरार होने के मामले का कड़ा संज्ञान लेते हुए ड्यूटी पर तैनात संतरी सहित रात में तैनात चार पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया। इसके साथ ही संतरी के खिलाफ लापरवाही का मामला दर्ज कर लिया गया है।

इस घटनाक्रम के लिए एसएसपी ने ऊधमपुर थाना प्रभारी का तबादला कर दिया है। फरार आरोपितों की तलाश के लिए पुलिस की तीन टीमें जम्मू और ऊधमपुर में आरोपितों के संभावित ठिकानों पर छापेमारी कर रही हैं।

पुलिस की गिरफ्त से भागने वाले आरोपितों की पहचान कुछ दिन पहले 5.5 ग्राम मादक पदार्थ हेरोइन (चिट्टा) के साथ पकड़े गए इफ्तिखार अली निवासी कोटली पांई, ऊधमपुर तथा 6.2 ग्राम चिट्टा के साथ पकड़े गए पर¨वद्र ¨सह उर्फ पम्मू निवासी सैला तालाब मूल निवासी तलपड़ के रूप में बताई गई है।

सारा घटनाक्रम कुछ फिल्मी स्टाइल जैसा था। बीती रात पुलिस ने इलाके में हुई चोरियों के सिलसिले में एक संदिग्ध मुहम्मद जाहिद को शक के आधार पर पूछताछ के लिए हिरासत में लिया। सूत्रों के मुताबिक जाहिद ने किसी तरह हवालात की चाबी चुरा कर हवालात का ताला खोला। इसके बाद तीनों ही ड्यूटी पर तैनात संतरी को चकमा देकर थाना परिसर की तरफ भागे। जहां से वे अंधेरे का लाभ लेते हुए गेट की बजाए थाना की दीवार फांद कर बाहर निकल गए। इस घटना की सूचना मिलते ही पुलिस के आला अधिकारी फौरन मौके पर पहुंचे। वहीं पुलिस ने पूरे इलाके में फरार हुए तीनों लोगों की तलाश शुरू कर दी, मगर समाचार लिखे जाने तक फरार कोई भी व्यक्ति पुलिस की गिरफ्त में नहीं आया था। उधर थाना से एनडीपीएस एक्ट के दो आरोपियों और एक संदिग्ध के फरार होने का मामले का कड़ा संज्ञान लेते हुए एसएसपी ऊधमपुर ने ड्यूटी पर तैनात सिपाही दिलीप ¨सह के साथ रात को थाना में तैनात नाइट मुंशी सिलेक्शन ग्रेड कांस्टेबल देस राज, आइओ हेडकांस्टेबल कासिम, ड्यूटी अफसर हेड कांस्टेबल प्रशोत्तम को निलंबित कर दिया है। संतरी के खिलाफ लापरवारी का मामला भी दर्ज किया है। थाने से आरोपितों का भागना गंभीर मामला है। इसके चलते ड्यूटी पर तैनात संतरी सहित चार लोगों को निलंबित कर दिया गया है। संतरी के खिलाफ इस लापरवाही के लिए मामला भी दर्ज किया है। ऊधमपुर के थाना प्रभारी विजय चौधरी का ऊधमपुर थाना से तबादला कर दिया है और इंस्पेक्टर विश्व प्रताप ¨सह को ऊधमपुर का कार्यकारी थाना प्रभारी नियुक्त किया है। उन्होंने कहा कि थाना के सीसीटीवी फुटेड में चोरी के संदिग्ध का दोनों को भगाने में मदद करना साफ नजर आ रहा है। पुलिस ने रात से ही तीनों को पकड़ने के लिए तीन टीमें गठित की है, जो अब तक जम्मू और ऊधमपुर में फरार लोगों के संभावित ठिकानों पर छापेमारी कर रही हैं। जल्द ही तीनों पुलिस की गिरफ्त में होंगे।

Posted By: Jagran