-सभी स्कूलों को सतर्क रहने और बच्चों को बाहर न भेजने की हिदायत जागरण संवाददाता, ऊधमपुर : झज्झरकोटली में आतंकी हमले के बाद जिला ऊधमपुर में रैड अलर्ट जारी कर दिया गया है। झज्झरकोटली के साथ लगती जिले की सीमाएं सील कर दी गई हैं। जिला पुलिस के आला अधिकारी सुबह से ही सतर्क हैं। उधर घटना के बाद प्रशासन के निर्देशों पर जिला शिक्षा विभाग ने हाईवे किनारे स्थित सभी स्कूलों को भी सतर्क रहने और बच्चों को बिना वजह बाहर न भेजने की हिदायत जारी कर दी।

सुबह आठ बजे के करीब जम्मू जिला के झज्झरकोटली इलाके में धम्मी पुल के पास सुरक्षा बलों द्वारा जांच के लिए रोके जाने पर ट्रक में छिपे आतंकियों ने अंधाधुंध फाय¨रग की और भाग निकले। सुरक्षा बलों के जवानों ने ट्रक चालक को गिरफ्तार कर लिया। सूचना मिलते ही पुलिस और सेना घटना स्थल पर पहुंच कई। घटना की सूचना मिलते ही जिला पुलिस ने जिले में रैड अलर्ट जारी कर दिया और सभी नाकों को जवानों को तैनात कर दिया। सूचना मिलते ही एसएसपी ऊधमपुर मोहम्मद रईस भट्ट, डीएसपी मुख्यालय कुलबीर हांडा सहित अन्य पुलिस अधिकारी व जवान के साथ टिकरी, रैंबल, ऊधमपुर और चिनैनी थाना प्रभारियों के नेतृत्व में हाईवे पर जगह जगह नाके लगा कर वाहनों की सघन तलाशी शुरु कर दी गई।

नाकों पर पुलिस और सीआरपीएफ के जवानों की संख्या में ईजाफा कर दिया गया। क्यूआरटटी, एंटी फिदायन दस्तों को सतर्क कर दिया गया। झझरकोटली में फाय¨रग कर भागे आतंकियों की तलाश में सर्च ऑपरेशन चलाने के साथ ही जिला पुलिस ने पुलिस को टिकरी और झज्झरकोटली की सीमा वाले इलाकों में तैनात कर दिया ता िआतंकी घुसपैठ कर जिले में प्रवेश न कर सकें। रात को भी गश्त बढ़ा दी गई है।

उधर आतंकी वारदात के बाद आतंकियों के भाग जाने के चलते जिला प्रशासन के निर्देशों पर जिला शिक्षा विभाग ने टिकरी सहित हाईवे किनारे स्थित सभी स्कूलों को अलर्ट जारी किया। उन्होंने स्कूलों के मुख्य गेट बंद रखने तथा किसी भी अनाधिकृत व्यक्ति को स्कूल में प्रवेश न करने देने तथा बच्चों को स्कूल के समय तक स्कूल से बाहर न जाने देने के सख्त निर्देश दिए।

इस बारे में एसएसपी ऊधमपुर रईस भट्ट ने कहा कि सुरक्षा के चलते जिले में रेड अलर्ट जारी कर दिया गया। वाहनों की तलाशी शुरू कर दी गई और सुरक्षा के सभी कदम फौरी तौर पर उठाए लिए गए। उन्होंने लोगों के घबराने नहीं बल्कि सतर्क रहने को कहा। अपने आसपास किसी प्रकार की संदिग्ध गतिविधि या व्यक्ति को देखने पर उन्होंने पीसीआर या नजदीकी पुलिस थाना में या जिला पुलिस अधिकारियों से संपर्क करने के निर्देश दिए।

Posted By: Jagran