संवाद सहयोगी, पौनी : कस्बे के साथ लगते कुंड खनेयाड़ी गांव में समय पर आटो न चलने से ग्रामीणों के साथ ही विद्यार्थियों को भी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। पौनी से कुंड खनेयड़ी गांव में एआरटीओ द्वारा चार ऑटो को परमिट जारी किया गया है लेकिन प्रतिदिन इक्का दुक्का आटो ही चलता है। आटो नहीं चलने पर मंगलवार को गांव के विद्यार्थियों ने तहसीलदार व एसएचओ पौनी से लिखित में आवेदन देकर इस बारे में शिकायत की है। तहसीलदार ने एसएचओ को मामले की जांच करने के बाद विद्यार्थियों की समस्या को हल करने के लिए कहा है।

गांव कुंड खनेयाड़ी, बल सरेआ, फनवाल, सैलीखडड, मियाड़ी से रोजाना सात-आठ किमी पैदल चलकर विद्यार्थी पौनी स्थित स्कूलों में पढ़ाई करने के लिए आते हैं। कभी कभार आटो मिलता है, लेकिन सवारियां अधिक होने पर चालक द्वारा कई बार बीच रास्ते में ही आटो से नीचे उतार दिया जाता है। विद्यार्थियों का कहना है कि आटो रोजाना ओवरलोड आते हैं। अगर सवारियां अधिक हो जाएं तो उन्हें चालक द्वारा नहीं बिठाया जाता है, जिसके बाद सभी विद्यार्थियों को पैदल स्कूल तक आना पड़ता है। विद्यार्थियों से किराया भी दस रूपये के हिसाब से पूरा लिया जाता है, लेकिन उन्हें फिर भी आटो में नहीं बिठाया जा है। स्थानीय लोगों व विद्यार्थियों ने स्थानीय प्रशासन से समस्या से निजात दिलाने कि मांग की है।

इस संबंध में एसएचओ पौनी तारिक हुसेन नाईक का कहना है कि उन्होंने पौनी से कुंड खनेयाड़ी चलने वाले आटो के मालिकों को पुलिस स्टेशन में बुलाया है। चालकों व मालिकों को सभी आटो नहीं चलाने का कारण पूछा जाएगा, जिसके बाद लोगों व विद्यार्थियों की समस्या को हल करवा दिया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस