संवाद सहयोगी, कटड़ा : विद्युत वितरण निगम लिमिटेड जम्मू (जेपीडीसीएल) की प्रबंध निदेशक यशा मुदगुल व श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड के सीईओ रमेश कुमार ने कटड़ा से भवन तक भूमिगत केबलिंग परियोजना के कार्यान्वयन की वर्तमान स्थिति की समीक्षा की।

कटड़ा से भवन व आसपास के क्षेत्रों में भूमिगत केबल बिछाने का काम, जिसे निविदा के आधार पर पीडीडी द्वारा एक ठेकेदार को आवंटित किया गया है, उसमें अनुमानित लागत 78 करोड़ रुपये बताई जा रही है। इस परियोजना में इलेक्ट्रिक नेटवर्क की एससीएडीए अनुपालन आधारित निगरानी प्रणाली होगी। इस प्रमुख परियोजना के कार्यान्वयन, पटरियों के साथ भवन क्षेत्र में निर्बाध बिजली आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए मौजूदा एचटी/एलटी ओवरहेड बिजली लाइनों को भूमिगत केबलिग द्वारा बदल दिया जाएगा। श्राइन बोर्ड के संबंधित अधिकारियों और इंजीनियरों की एक टीम के साथ मुदगल और रमेश कुमार ने भवन के ताराकोट मार्ग और हिमकोटि मार्ग पर भूमिगत केबल बिछाने के काम की गति का निरीक्षण करते हुए ताराकोट मार्ग पर अगले सात दिनों के भीतर और भवन-भैरो घाटी-सांझीछत हिस्से को 15 दिनों के भीतर काम पूरा करने पर जोर दिया। साथ ही कहा गया कि कंप्रेसिग और टाइल बिछाने के काम को एक साथ किया जाना चाहिए। अधिकांश भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों में काम को प्राथमिकता पर लिया जाना चाहिए और काम की खोदाई और निष्पादन के दौरान ट्रैक की सुरक्षा सुनिश्चित की जानी चाहिए। भवन में आयोजित एक बैठक में जम्मू पावर डिस्ट्रीब्यूशन कॉरपोरेशन लिमिटेड की प्रबंध निदेशक और श्राइन बोर्ड के सीईओ ने परियोजना के निष्पादन एजेंसी से कहा कि काम समय से पूरा करें। इस बैठक में एसडीएम भवन नरेश कुमार, डॉ. सुनील शर्मा और विश्वजीत सिंह शामिल थे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस