संवाद सहयोगी, पौनी : गजोड़ पंचायत में केंद्रीय भूजल विभाग की तरफ से लोगों की पीने के पानी की सुविधा के लिए निकाले जा रहे बोरवेल का मामला डीसी रियासी इंदु कंवल चिब ने सुलझा दिया है। डीसी ने मौके पर पहुंचकर दोनों पक्ष के लोगों की बात सुनने के बाद बोरवेल का काम जारी रखने के निर्देश दिए हैं।

इस दौरान उन्होंने कहा कि गजोड़ पंचायत के लोग आपसी भाईचारा बनाए रखें। पंचायत के लोग निर्माण कार्य को लेकर एकजुटता नहीं दिखाते हैं। जब भी कोई पंचायत में निर्माण कार्य आता है तो उसे लेकर आपसी विवाद खड़ा कर देते हैं। इससे गजोड़ पंचायत में निर्माण कार्य की गति को विराम लग सकता है। उन्होंने कहा कि जब तक गजोड़ पंचायत के लोग आपसी भाईचारा नहीं बनाए रखेंगे, तब तक जिला प्रशासन की तरफ से बोरवेल को छोड़कर अन्य किसी भी निर्माण कार्य की अनुमति एवं उसके निर्माण के लिए कोई पैसा जारी नहीं किया जाएगा। डीसी ने कहा कि जिस जगह पर बोरवेल निकालने का काम चल रहा है, वहां भूजल विभाग की तरफ से अभी प्रशिक्षण किया जा रहा है। अगर पानी निकल जाता है तो उसके बाद जलशक्ति विभाग के अधिकारियों सहित एक पानी की योजना तैयार की जाएगी। इतना ही नहीं जो भी योजना लोगों को पानी की सप्लाई मुहैया कराने के लिए तैयार की जाएगी, उसका निर्णय पंचायत में बैठकर लोगों के फैसले के मुताबिक किया जाएगा। इस दौरान सेना से सेवानिवृत्त लोगों ने डीसी को अवगत कराया कि गजोड़ पंचायत में जो भी निर्माण कार्य आता है, उसे लेकर लोग आपसी विवाद खड़ा कर देते हैं। लोगों को पंचायत के विकास के लिए आपसी भाईचारा बनाए रखते हुए प्रत्येक निर्माण कार्य को पूर्ण करना चाहिए, जिससे ग्रामीणों को भी लाभ हो और प्रशासन को भी किसी तरह की कोई दिक्कत न हो। डीसी के कार्यक्रम के दौरान लोग शारीरिक दूरी बनाए रखने के अलावा मास्क भी पहने हुए थे।

इस मौके पर तहसीलदार पौनी लेखराज, नायब तहसीलदार पौनी कृष्णचंद, बीडीसी चेयरमैन पवन कुमार शर्मा, सरपंच गजोड़ पंचायत लखविदर कौर, सरपंच भारख जसपाल सिंह, सरपंच लेतर द्वारकानाथ, सरपंच रियाला शामलाल आदि मौजूद थे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस