राज्य ब्यूरो, श्रीनगर : उत्तरी कश्मीर के यारु, हंदवाड़ा में मंगलवार देर रात तक जारी मुठभेड़ में एक आतंकी के मारे जाने की सूचना है, लेकिन आधिकारिक तौर पर पुलिस ने इसकी पुष्टि नहीं की है। घेराबंदी में दो से तीन आतंकी फंसे बताए जा रहे हैं।

जानकारी के अनुसार, दोपहर को हंदवाड़ा के गनपोरा, लंगेट से गुजर रहे सेना की 30 आरआर के गश्तीदल पर आतंकियों ने घात लगाकर हमला किया। जवानों ने खुद को बचाते हुए जवाबी फायर किया, लेकिन आतंकी सुरक्षित भाग निकले। जवानों ने आतंकियों का पीछा किया। इसी दौरान राज्य पुलिस विशेष अभियान दल और सीआरपीएफ की 90वीं वाहिनी के जवान भी उनके साथ आतंकरोधी अभियान में शामिल हो गए। सुरक्षाबलों ने आतंकियों का पता लगाने के लिए खोजी कुत्तों की भी मदद ली।

करीब दो घंटे बाद जवानों ने गनपोरा से कुछ ही दूरी पर यारु इलाके में आतंकियों को देख लिया। उन्होंने आतंकियों को ललकारते हुए आत्मसमर्पण करने को कहा, लेकिन आतंकियों ने जवानों पर फाय¨रग कर दी। जवानों ने भी जवाबी फायर किया और उसके बाद वहां मुठभेड़ शुरू हो गई। सूत्रों की मानें तो आतंकियों की संख्या तीन से चार थी। इनमें से देर रात तक एक आतंकी मारा गया था, जबकि अन्य आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच रुक-रुक कर गोलीबारी जारी थी।

हंदवाड़ा स्थित पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यारु मुठभेड़ की पुष्टि तो की, लेकिन किसी आतंकी के मारे जाने से इन्कार करते हुए कहा कि जब तक शव नहीं मिलेगा, हमारे लिए सभी आतंकी ¨जदा है। फिलहाल, मुठभेड़ जारी है।

Posted By: Jagran