राज्य ब्यूरो, श्रीनगर : दक्षिण कश्मीर में तीन पुलिसकर्मियों और एक भाजपा कार्यकर्ता की हत्या में लिप्त आतंकियों और उनके साथियों की धरपकड़ के लिए सुरक्षाबलों ने वीरवार को आठ जगहों पर घेराबंदी कर तलाशी अभियान (कासो) चलाया। इस दौरान त्राल और पुलवामा में सुरक्षाबलों व आतंकी समर्थक तत्वों के बीच ¨हसक झड़पों में आठ लोग जख्मी हो गए। घायलों में दो पुलिसकर्मी भी हैं। सुरक्षाबलों ने सात लोगों को संदेह के आधार पर पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। इनमें दो युवक हिजबुल मुजाहिदीन और दो सक्रिय आतंकियों के भाई बताए जाते हैं।

गौरतलब है कि बुधवार को आतंकियों ने पुलवामा के लुसवानी में कांस्टेबल याकूब शाह, लारवे पुलवामा में इंस्पेक्टर मोहम्मद अशरफ डार, रक्ख लित्तर में भाजपा नेता शब्बीर बट और कुलगाम में कांस्टेबल फैयाज की हत्या करने के अलावा शोपियां में भी एक पुलिस अधिकारी के घर पर हमला किया था। ईद के दिन हुए आतंकी हमलों में लश्कर और हिज्ब के आतंकियों का हाथ बताया जाता है। इन आतंकियों में तीन पुलिस व सेना के भगोड़े भी शामिल थे। आतंकियों को पकड़ने के लिए पुलिस, सेना और सीआरपीएफ के जवानों ने संयुक्त रूप से तलाशी अभियान चला रखा है। आतंकियों के प्रभाव वाले इलाकों और उनके संभावित ठिकानों पर दबिश दी जा रही है। त्राल में आतंकियों की धरपकड़ के लिए सुरक्षाबलों को देखते ही युवकों ने भड़काऊ नारेबाजी करते हुए पथराव शुरू कर दिया। इसमें एक सुरक्षाकर्मी जख्मी हो गया। इसके बाद सुरक्षाबलों ने ¨हसक भीड़ पर काबू पाने के लिए आंसूगैस और लाठियों का सहारा लिया। देर शाम तक त्राल में ¨हसक झड़पों का दौर जारी था। इसी दौरान पुलवामा में भी सुरक्षाबलों ने आतंकियों के छिपे होने की आशंका पर जैसे ही तलाशी अभियान चलाया, शरारती तत्वों ने पथराव शुरू कर दिया। सुरक्षाबलों को उन पर काबू पाने के लिए बल प्रयोग करना पड़ा। पुलवामा शहीद पार्क और जेके बैंक के पास सबसे ज्यादा ¨हसा हुई।

सुरक्षाबलों ने पुलवामा के बेलू, डोगरीपोरा और मलंगपोरा में भी आतंकियों के छिपे होने के संदेह पर कासो चलाए, जो देर शाम तक जारी थे। अनंतनाग के काजीबाग इलाके और जिला कुलगाम के हावूरा, रेडवनी व खुडवनी में भी सुरक्षाबलों ने तलाशी ली।

सूत्रों के मुताबिक, पुलवामा और त्राल में ¨हसक झड़पों में दो पुलिस कर्मियों समेत आठ लोग जख्मी हुए थे। सात लोगों को संदेह के आधार पर पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है। इनमें दो युवक सक्रिय आतंकियों जावेद बट और उवैस राजा के भाई बताए जाते हैं।

Posted By: Jagran