श्रीनगर, जेएनएन। जम्मू-कश्मीर में वीरवार को नेशनल कॉन्फ्रेंस (नेकां) के कार्यकर्ता मोहम्मद इस्माइल वानी को आतंकियों ने गोली मार दी है। वानी को श्रीनगर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 

गौरतलब है कि दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले में बुधवार को आतंकियों ने एक युवक की उसके घर के बाहर गोली मारकर हत्या कर दी।  मारा गया युवक सेना से भगोड़ा था।पुलिस के अनुसार, वारदात पुलवामा के पिंगलीना गांव के नायक मुहल्ले में हुई। 25 वर्षीय आशिक हुसैन पुत्र मोहम्मद युसूफ नायक अपने घर में दाखिल हो रहा था। तभी अचानक नकाब पहने आतंकी आए और उन्होंने आशिक पर गोलियां दाग दीं। आशिक को मरा समझकर आतंकी वहां से फरार हो गए। गंभीर रूप से घायल आशिक को स्थानीय लोगों व परिजनों ने तुरंत स्थानीय अस्पताल पहुंचाया, लेकिन डॉक्टरों ने उसे मृत लाया घोषित कर दिया।

इस घटना के बाद स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) के जवानों ने पूरे क्षेत्र को अपने कब्जे में लेकर तलाशी अभियान शुरू कर दिया है।सेना के अनुसार, आशिक हुसैन ने कभी भी जवान की शपथ नहीं ली। पंद्रह जनवरी 2018 को वह टेरीटोरियल आर्मी में भर्ती हुआ था। 21 मई, 2018 को जेकलाइ रेजीमेंटल सेंटर में गया। 14 सितंबर को वह तीन दिन की छुट्टी पर घर गया, लेकिन उसके बाद कभी नहीं लौटा। 17 सितंबर को उसे भगोड़ा घोषित कर दिया गया। इसीलिए उसका सेना के साथ कोई भी लेना देना नहीं है।
 

Posted By: Sachin Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस