राज्य ब्यूरो, श्रीनगर : जम्मू कश्मीर पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) दिलबाग सिंह ने कहा कि बिजबिहाड़ा में ट्रक चालकों पर हुए हमले में लिप्त रहा एक आतंकी मारा जा चुका है। सोपोर की घटना में लिप्त आतंकी भी मार गिराया है। कुलगाम में बंगाल के पांच श्रमिकों और शोपियां में सेब व्यापारियों की हत्या में लिप्त आतंकियों की निशानदेही की जा चुकी है। उन्हें भी जल्द मार गिराया जाएगा।

दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले में पुलिस, सेना और केंद्रीय अर्धसैनिक बलों के वरिष्ठ अधिकारियों संग सुरक्षा परिदृश्य का जायजा लेने के बाद डीजीपी दिलबाग सिंह ने कहा कि वादी में हालात तेजी से सामान्य हो रहे हैं। कुलगाम आने से पहले गांदरबल, बांडीपोर, हंदवाड़ा का दौरा किया वहां हर जगह स्थिति सामान्य है। कुलगाम की स्थिति में भी व्यापक सुधार हुआ है। ¨चता इस बात की है कि सुधरते हालात को बिगाड़ने के लिए आतंकी हर संभव साजिश कर रहे हैं। मगर लोगों को सुरक्षित व विश्वासपूर्ण माहौल देने के लिए आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं। इससे पूर्व बैठक में उन्होंने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई को जारी रखी जाएगी।

आतंकवाद पर योजनाबद्ध तरीके से प्रभावी और अंतिम प्रहार किया जाएगा। आतंकरोधी अभियानों के लिए पुलिस व अन्य सुरक्षा एजेंसियों को पर्याप्त संसाधन उपलब्ध कराए जाएंगे। शांति व्यवस्था भंग करने वाले और राष्ट्रविरोधी तत्वों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने और आम जनता से संवाद करने पर भी पुलिस महानिदेशक ने जोर दिया। इस वर्ष नाममात्र हुई आतंकी संगठनों में युवकों की भर्ती डीजीपी ने कहा कि पाकिस्तान कश्मीर में हालात बिगाड़ने के लिए आतंकी संगठनों पर लगातार दबाव बनाए हुए है। घुसपैठ को बढ़ावा दे रहा है।

आतंकी संगठन स्थानीय युवकों को गुमराह कर, उन्हें आतंकी बनाने की कई कोशिशें कर रहे हैं, लेकिन अब कश्मीरी नौजवान उनके दुष्प्रचार का शिकार नहीं हो रहा है। बीते वर्षो की तुलना में इस वर्ष कश्मीर में नाममात्र युवक ही आतंकी बने।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप