राज्य ब्यूरो, जम्मू : लद्दाख लोकसभा क्षेत्र में चुनाव को निष्पक्ष व पारदर्शी बनाने के लिए यहां से चुनाव लड़ रहे उम्मीदवारों के चुनाव खर्च पर चुनाव आयोग की पैनी नजर है। उम्मीदवारों के खर्च का लेखा-जोखा खंगाला जा रहा है।

लद्दाख के चुनाव खर्च पर्यवेक्षक मिलन रूचल शुक्रवार को दूसरी बार लद्दाख के 4 उम्मीदवारों के चुनाव खर्च का बारीकी से निरीक्षण करेंगे। इससे पहले 23 अप्रैल को लेह संसदीय सीट के 4 उम्मीदवारों के चुनाव खर्च का बारीकी से निरीक्षण किया गया था। इन चार उम्मीदवारों में भाजपा के उम्मीदवार जामियांग सीरिग नाम्गयाल, कांग्रेस के रिगजिन स्पालवार, निर्दलीय सज्जाद कारगिली व असगर अली करबलई शामिल हैं।

लद्दाख में उम्मीदवार कम हैं, ऐसे में चुनाव आयोग के लिए उन पर नजर रखना आसान है। इन दिनों पार्टी, निर्दलीय उम्मीदवारों के एजेंटों द्वारा सौंपे गए खर्च के बिलों का बारीकी से निरीक्षण किया जा रहा है। यह कार्रवाई संसदीय क्षेत्र के सहायक चुनाव अधिकारियों व चुनाव खर्च की निगरानी करने वाले नोडल आफिसरों की मौजूदगी में की जा रही है।

छह मई को लद्दाख संसदीय सीट के लिए मतदान होने से पहले 3 बार उम्मीदवारों के चुनाव खर्च की जांच व उनके खर्च रजिस्टर का निरीक्षण होना है। तीसरी व आखरी बार यह निरीक्षण 4 मई को होगा। ऐसे हालात में चुनाव खर्च की जांच के दौरान खर्च पर्यवेक्षक ने सहायक चुनाव अधिकारियों व नोडल अधिकारियों को निर्देश दिए कि खर्च की दूसरी जांच होने से पहले उम्मीदवारों के अकाउंट की हर डिटेल खंगाली जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि उन द्वारा दिया गया चुनाव का हिसाब त्रुटिरहित हो। यह भी देखा जाए कि चुनाव पर धन खर्चने संबंधी हर बिल पारदर्शी तरीके से सौंपा गया है या नहीं। संबंधित अधिकारी चुनाव खर्च की लगातार जांच कर सुनिश्चित करें कि किसी भी उम्मीदवार का खर्च चुनाव आयोग द्वारा तय की गई सीमा से अधिक न हो। चुनाव आयोग के निर्देशों के अनुसार कोई भी उम्मीदवार अपने चुनाव पर 70 लाख से अधिक खर्चा नही कर सकता है।

लद्दाख के उम्मीदवारों के चुनाव खर्च के पहले निरीक्षण के दौरान लेह के अतिरिक्त जिलाधीश मोसेस कुजांग, सहायक खर्च अधिकारी डॉ. जुल्फिकार अली, एनओ जिगमित नाम्गयाल, स्टेंजिन डोंसाल, चुनाव अकाउंट, खर्च रजिस्टर का निरीक्षण करने वाली टीमें व राजनीतिक पार्टियों व निर्दलीय उम्मीदवारों के एजेंट मौजूद रहते हैं। जांच से सुनिश्चित किया जाता है कि चुनाव को पैसे से प्रभावित न किया जा सके। चुनाव के पांचवें चरण में लद्दाख संसदीय सीट के लिए मतदान 6 मई को होना है।

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran