राज्य ब्यूरो, श्रीनगर : राज्यपाल के सलाहकार के विजय कुमार ने बुधवार को ग्रीष्मकालीन राजधानी में चर्च लेन स्थित राज्यपाल शिकायत कक्ष में जनता दरबार में राज्य के विभिन्न हिस्सों से आए राजनीतिक, सामाजिक, मजहबी संगठनों, ट्रेड यूनियनों और जनप्रतिनिधिमंडलों से मुलाकात कर उनकी समस्याओं को सुना। उन्होंने यथासंभव हल करने का यकीन दिलाया।

राज्यपाल के सलाहकार से मुलाकात करने वालों में ऑल जम्मू-कश्मीर गवर्नमेंट फार्मासिस्ट एसोसिएशन, एचडीएफ वर्कर्स, सीएएमपीए में काम कर रहे मजदूरों, जम्मू-कश्मीर में आधार परियोजना के लिए काम कर रहे पीईसी/ बीएमई ऑपरेटरों/पर्यवेक्षकों, राजनीतिक प्रवासियों के अलावा दर्जनों अन्य प्रतिनिधिमंडल शामिल थे।

ऑल जम्मू-कश्मीर सरकार फार्मासिस्ट एसोसिएशन के एक प्रतिनिधिमंडल ने अपने मामलों की मंजूरी के लिए डीपीसी आयोजित करने में सलाहकार के हस्तक्षेप की मांग की है। इसके अलावा निवारण के लिए कुछ अन्य सेवा संबंधी मुद्दों को ध्वजांकित किया है।

एचडीएफ श्रमिकों के प्रतिनिधिमंडल ने सलाहकार से मुलाकात की और उनकी नियुक्ति और नियमितीकरण के लिए अनुरोध किया। राजनीतिक प्रवासियों ने सलाहकार के समक्ष अपने मुद्दों को प्रस्तुत किया और उचित आवास के लिए अनुरोध किया।

कैंप में आकस्मिक श्रमिकों के कामकाज के एक समूह ने अपनी ¨चता व्यक्त की और सलाहकार से अपनी सेवाओं के नियमितीकरण के लिए हस्तक्षेप की मांग की। इसके अलावा जेएंडके में आधार परियोजना के लिए काम कर रहे पीईसी/बीएमई ऑपरेटरों/पर्यवेक्षकों ने अपने आधार सेवाओं के अनुबंध की निरंतरता के लिए अनुरोध किया।

इस बीच, कश्मीर संभाग के विभिन्न जिलों के कई व्यक्तियों ने भी सलाहकार से मुलाकात की और अपनी शिकायतों और मांगों को रखा। इनमें मुख्य रूप से जल और बिजली की आपूíत, बाढ़ राहत, स्वास्थ्य सेवाएं, सड़क संपर्क इत्यादि शामिल हैं।

सलाहकार के विजय कुमार ने उन्हें आश्वासन दिया कि उनकी शिकायतों/ मांगों की जांच की जाएगी और संबंधित विभागों से उनकी सभी वास्तविक ¨चताओं को दूर करने के लिए कहा जाएगा। उन्होंने प्रतिनिधियों को आश्वासन दिया कि उनके विभाग से संबंधित अन्य विभागों से संबंधित मुद्दों को समय पर निवारण के लिए भेजा जाएगा।

Posted By: Jagran