श्रीनगर, जेएनएन। Pampore Encounter: जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) पंपोर (Pampore) के अंतर्गत आने वाले द्रांगबल (Drangbal) में शनिवार तड़के सुरक्षा बलों व आतंकियों के बीच मुठभेड़ (Encounter) में सुरक्षाबलों ने एलइटी के टॉप कमांडर उमर मुश्ताक समेत दो आतंकी मार गिराया है। 

IGP Vijay Kumar ने आतंकी मुश्ताक के मारे जाने की पुष्टि करते हुए कहा कि एलइटी कमांडर कश्मीर घाटी में सक्रिय दस शीर्ष आतंकियों की सूची में शामिल था। पुलिस काफी देर से उसकी तलाश कर रही था। मुश्ताक का मारा जाना सुरक्षाबलों की बड़ी कामयाबी है। उसी ने श्रीनगर के बगत इलाके में दो पुलिसकर्मियोें की हत्या की थी। मारे गए आतंकवादियों के शवों और वहां से बरामद हथियारों को अपने कब्जे में लेने के बाद सुरक्षाबलों ने इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया। जब इस बात की पुष्टि हो गई कि इलाके में कोई और आतंकी मौजूद नहीं है तो ऑपरेशन को समाप्त करने की घोषणा कर दी गई। 

आइजीपी कश्मीर विजय कुमार ने कहा कि लश्कर के आतंकवादी उमर मुश्ताक खांडे ने ही हमारे 2 सहयोगियों सिलेक्शन ग्रेड कांस्टेबल मोहम्मद यूसुफ और कांस्टेबल सुहैल अहमद को बगत श्रीनगर में शहीद कर दिया था। उसने उन पर तब हमला किया जब वे चाय पी रहे थे। इसके अलावा भी वह कई आतंकवादी गतिविधियों में शामिल था। आज मुठभेड़ में उसके समेत दो आतंकियोें को मार गिराकर पुलिस ने अपने साथियों का बदला ले लिया।

आइजीपी ने यह भी कहा कि जनता के बीच भय पैदा करने और घाटी के शांतिपूर्ण माहौल को खराब करने वाले इन आतंकवादियों को किसी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। राष्ट्र विरोधी ऐसे तत्वों का नाम समाज से मिटा देना चाहिए।  

इससे पहले जब सुबह मुठभेड़ शुरू हुई तो आइजीपी कश्मीर विजय कुमार ने ही अपने ट्वीटर हैंडल पर इसकी जानकारी देते हुए लिखा था कि 'जम्मू कश्मीर पुलिस के निशाने पर शीर्ष दस आतंकी हैं जिनमें शामिल LeT कमांडर उमर मुश्ताक खांडे (Umar Mustaq Khandey) उनके घेरे में फंस चुका है।' कश्मीर जोन के पुलिस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से इस आतंकी के बारे में जानकारी दी कि यह कितना खूंखार था।

बता दें कि यह वही आतंकी है जिसने 8 महीने पहले श्रीनगर में दो पुलिस जवानों की हत्या कर दी थी। पुलिस के निशाने पर शीर्ष दस आतंकियों में सलीम पार्रे (Salim Parray), युसुफ कांतरु (Yusuf Kantru) , अब्बास शेख (Abbas Sheikh) , रियाज शेटरगंड, फारूक नाली, जुबैर वानी, अशरफ मोलवी, शाकिब मंजूर, उमर मुस्ताक खांडे और वकील शाह का नाम था। आइजीपी विजय कुमार ने बताया कि जम्मू कश्मीर में अब तक हुए 8 एनकाउंटरों में सुरक्षाबल ने कुल 11 आतंकियों को ढेर करने में सफलता हासिल की है।

उल्लेखनीय है कि मुठभेड़ में जम्मू कश्मीर पुलिस, भारतीय सेना और सीआरपीएफ के जवान मौजूद थे।

Edited By: Monika Minal