श्रीनगर, एएनआइ। Coronavirus. नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष और सांसद डॉ. फारूक अब्दुल्ला ने रविवार को श्रीनगर स्थित अस्पतालों को 1.5 करोड़ रुपये की अतिरिक्त राशि जारी की। इस राशि को तीन अस्पतालों के बीच समान रूप से बांटा जाएगा। फारूक ने यह धानराशि कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग के लिए जारी की है। इस राशि को श्रीनगर के तीन अस्पतालों (एसएमएचएस अस्पताल, सीडी अस्पताल और जीबी पंत अस्पताल) में समान रूप से वितरित किया जाएगा।

गौरतलब है कि इससे पहले नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. फारूक अब्दुल्ला और श्रीनगर नगर निगम के मेयर जुनैद अजीम मट्टू समेत विभिन्न राजनीतिक नेताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर पूरे जम्मू-कश्मीर में 4जी इंटरनेट सेवा को तत्काल प्रभाव से बहाल करने का आग्रह किया था।

डॉ. फारूक ने गुरुवार को कोरोना वायरस का हवाला देते हुए प्रधानमंत्री को पत्र लिखा है कि कश्मीर में कोरोना से संक्रमित एक रोगी के मिलने के बाद प्रशासन ने कई इलाकों में लॉकडाउन कर दिया है। लोगों और छात्रों को घरों में ही रहकर कामकाज निपटाने और पढ़ने की सलाह दी जा रही है। वादी में 2जी इंटरनेट सेवा के जरिए घर से इंटरनेट के जरिए पढ़ाई करना व कार्यालय के कामकाज को निपटाना मुश्किल है। इसलिए 4जी इंटरनेट सेवा को बहाल किया जाए।

जुनैद अजीम मट्टू ने गृहमंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर कहा है कि 4जी इंटरनेट सेवा की बहाली से मौजूदा परिस्थितियों से निपटने में मदद मिलेगी। कश्मीर में तेज गति की इंटरनेट सेवा अब लग्जरी नहीं रह गई है। यह जरूरी सुविधा हो चुकी है। तेज गति इंटरनेट सेवा से हमें टेली मेडिसिन सुविधा में भी मदद होगी।

इल्तिजा पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती की बेटी इल्तिजा मुफ्ती ने अपनी मां के ट्विटर हैंडल पर 4जी सेवा बहाली पर जोर देते हुए लिखा है कि पूरा विश्व कोरोना वायरस से लड़ रहा है, लेकिन जम्मू-कश्मीर प्रशासन 4जी सेवा पर पाबंदी को हटाने से बच रहा है। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप से पैदा हालात में इंटरनेट व सूचना का अधिकार मौलिक जरूरत है। यह कोई विशेषाधिकार या सुविधा नहीं है।

प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन जम्मू-कश्मीर के अध्यक्ष जीएन वार ने कहा कि इस समय स्कूल बंद हैं। प्रशासन कह रहा है कि हम उनके लिए टेलीविजन और इंटरनेट के जरिए कक्षाओं का आयोजन करेंगे। यह 2जी स्पीड पर नहीं हो सकता। इंटरनेट पर कोरोना वायरस को लेकर हो रही रिसर्च की जानकारी आसानी से उपलब्ध होगी, जिससे लोगों में फैल रहे डर पर काबू पाने में मदद मिलेगी। 

जम्मू-कश्मीर की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sachin Kumar Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस