राज्य ब्यूरो, श्रीनगर: केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआइ) ने बुधवार को उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा में स्थित जम्मू कश्मीर ग्रामीण बैंक में हुए 1.33 करोड़ रुपये के घोटाले के मामले में छापेमारी की। यह छापे खुमरियाल और हयहामा इलाके में स्थित बैंक सहायक शारिक हुसैन खान के ठिकानों पर मारे गए। सीबीआइ के दल ने खुमरियाल कुपवाड़ा स्थित जम्मू कश्मीर ग्रामीण बैंक की शाखा में भी तलाशी ली है।

सीबीआइ ने गत सप्ताह ही जम्मू कश्मीर ग्रामीण बैंक खुमरियाल की तरफ से प्राप्त लिखित शिकायत के आधार पर बैंक सहायक शारिक हुसैन खान के खिलाफ मामला दर्ज कर छानबीन शुरू की थी। उस पर धोखाधड़ी, अपने पद के दुरुपयोग और आपराधिक साजिश रचने के मामले दर्ज किए गए हैं। सीबीआइ ने सीनियर मैनेजर आडिट इंस्पेक्शन एंड विजिलेंस फरहान गुल की शिकायत पर मामला दर्ज किया है। शिकायत के मुताबिक खुमरियाल स्थित बैंक शाखा में कार्यरत रह चुके शारिक हुसैन ने बैंक के कंप्यूटर सिस्टम व अन्य दस्तावेजों में गड़बड़ी कर 1.33 करोड़ रुपये खुर्दबुर्द कर दिए हैं। सीबीआइ ने शुरुआती जांच में शिकायत को सही पाया। हालांकि, शारिक हुसैन को हिरासत में लिए जाने की देर शाम तक पुष्टि नहीं हुई थी।

सीबीआइ के अधिकारियों ने दोपहर 12 बजे से तीन बजे तक खुमरियाल स्थित ग्रामीण बैंक की शाखा और हयहामा स्थित शारिक हुसैन खान के मकान की तलाशी लेते हुए वहां से कई दस्तावेज जब्त किए हैं। शारिक के घर से कुछ बैंकों की पासबुक और जमीन-जायदाद के दस्तावेज भी जब्त किए हैं। सीबीआइ के मुताबिक शारिक हुसैन खान ने जनवरी 2016 से ही अपने पद का दुरुपयोग करते हुए बैंक में जमा राशि में घोटाला किया है। उसके द्वारा किए जा रहे घोटाले की पुष्टि बैंक द्वारा इस मामले में दिसंबर 2019 से जनवरी 2020 तक की गई आंतरिक जांच में भी हुई है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस