Move to Jagran APP

सकारात्मक विचारों से आप आसानी से चढ़ सकते हैं सफलता की सीढ़ी : अभिषेक राज

टैलेंट के साथ-साथ सकारात्मक विचारों की जरूरत होती है। नकारात्मक सोच वाले अपनी काबिलियत को करिअर में भुना नहीं सकते लेकिन यदि किसी में टैलेंट थोड़ा कम भी हो लेकिन अगर वह सकारात्मक सोच का हो तो एक न एक दिन वह सफल होकर रहता है।

By Jagran NewsEdited By: Lokesh Chandra MishraPublished: Wed, 12 Oct 2022 03:00 PM (IST)Updated: Wed, 12 Oct 2022 03:00 PM (IST)
सबकुछ सही होने के बावजूद असफल हो रहा है तो समझ लेना चाहिए कि उसे लाइफ कोच की आवश्कता है।

जम्मू, जेएनएन : कई बार ऐसा देखने कोे मिलता है कि कुछ लोग पर्याप्त टैंलेंट होने के बावजूद सफल नहीं हो पाते हैं। एक बार असफल हो जाने से ही वे डिप्रेशन के शिकार हो जाते हैं। ऐसा प्राय: इसलिए होता है क्योंकि कोई व्यक्ति सिर्फ टैलेंट से सफलता की सीढ़ी नहीं चढ़ सकता। टैलेंट के साथ-साथ सकारात्मक विचारों की जरूरत होती है। नकारात्मक सोच वाले अपनी काबिलियत को करिअर में भुना नहीं सकते, लेकिन यदि किसी में टैलेंट थोड़ा कम भी हो, लेकिन अगर वह सकारात्मक सोच का हो तो एक न एक दिन वह सफल होकर रहता है।

loksabha election banner

हर जागरूक व्यक्ति अपनी क्षमता का आकलन जरूरत कर लेता है। यदि लगता है वह सबकुछ सही होने के बावजूद असफल हो रहा है तो समझ लेना चाहिए कि उसे लाइफ कोच की आवश्कता है। यानी जीवन को सही दिशा में ले जाने के लिए सकारात्मक सोच वालों से मार्गदर्शन की जरूरत होती है। आजकल लाइफ कोच का चलन भी बढ़ता जा रहा है। ऐसे ही एक लाइफ कोच हैं अभिषेक राज जैन। आजकल वह सकारात्मक विचारों से सोशल मीडिया पर काफी चर्चा बटोर रहे हैं। इंस्टाग्राम पर काफी लाेग उनको फालो कर मार्गदर्शन पा रहे हैं।

अभिषेक राज बताते हैं कि किसी की काबिलियत को चार चांद लगाने के लिए मार्गदर्शन की जरूरत होती है। आशावादी होना भी जरूरी होता है, लेकिन अपने विचारों को एक अलग और प्रभावी तरीके से सामने रखने का हुनर भी होना चाहिए, ताकी आप सबसे कुछ अलग लगें। यह कैसे संभव है, यह समझने की जरूरत होती है। यह कला जिसको भी आ गई, वह सफलता की सीढ़ी आसानी से चढ़ सकता है। वह यह भी बताते हैं कि सफल होने के लिए पहले छोटे-छोटे लक्ष्य तय करें। वह लक्ष्य हासिल होने से सकारात्मकता आती है और आप बड़े लक्ष्य हासिल करने के काबिल बन जाते हैं।

अभिषेक ने बताया कि वह एक ऐेसा पाठ्यक्रम शुरू करने की योजना बना रहे हैं जो लोगों को आत्मनिर्भर बनने में मददगार हो सके। यह कोर्स सोशल मीडिया और डिजिटल मार्केटिंग, हेल्थ एंड वेलनेस और अन्य पेशेवर सेवाओं सहित तीन श्रेणियों में होगा। हर वर्ग के लिए कई पाठ्यक्रम होंगे, जिससे युवाओं की स्किल विकसित होगी और वे सकारात्मक होंगे। तभी वे आत्मनिर्भर हो सकेंगे।


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.