पुंछ, जेएनएन। Ceasefire Violation: पाकिस्तानी सेना को दुस्साहस की एक बार फिर बड़ी कीमत चुकानी पड़ी है। गुरुवार को उसने जम्मू संभाग के पुंछ में नियंत्रण रेखा (एलओसी) से हीरानगर में अंतरराष्ट्रीय सीमा (आइबी) तक भारी गोलाबारी की। उसकी कायराना हरकत का भारतीय सेना ने करारा जवाब दिया और पुंछ में उसके चार सैनिकों को मार गिराया। इनमें एक अधिकारी भी बताया जा रहा है। पाकिस्तान के तीन से चार जवान घायल हैं और तीन बंकर तबाह हो गए हैं। पाकिस्तानी सेना ने पुंछ जिले के शाहपुर किरनी सेक्टर में एलओसी पर सुबह साढ़े नौ बजे अग्रिम चौकियों पर छोटे हथियारों से गोलीबारी शुरू कर दी।

भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई के बाद उसने रिहायशी क्षेत्रों में मोर्टार से गोले दागने शुरू कर दिए, जिससे नजदीकी इलाकों में दहशत का माहौल बन गया। दोपहर तक रुक-रुक कर गोलाबारी होती रही। इसके बाद भारतीय सैनिकों ने कड़ी जवाबी कार्रवाई करते हुए पाकिस्तान के रख चिकरी सेक्टर में भारी नुकसान पहुंचाया। पाकिस्तानी रेंजरों ने आइबी से सटे कठुआ जिले के हीरानगर सेक्टर के गांवों चक चंगा व छन्न टांडा में बुधवार रात 11 बजे से गुरुवार सुबह चार बजे तक गोलाबारी की। उन्होंने मोर्टार के 82 एमएम के गोले दागे और मशीनगनों से रुक-रुक कर फाय¨रग की। इसी दौरान एक शेल चक चंगा निवासी मदन लाल के मकान की छत पर गिरा, जिससे पानी की टंकी व अन्य सामान क्षतिग्रस्त हो गया। परिवार के सदस्य बच गए। बीएसएफ 19वीं बटालियन के जवानों ने भी गोलाबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया।

गौरतलब है कि राजौरी जिले के केरी सेक्टर में बुधवार को भारतीय सेना ने नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर घुसपैठ की बड़ी साजिश नाकाम कर दी है। एक घुसपैठिया मारा भी गया है। उसके साथ आए अन्य आतंकी जान बचाकर वापस गुलाम कश्मीर की तरफ भाग निकले। ये आतंकी भारतीय क्षेत्र में चार सौ मीटर अंदर तक घुस आए थे। मारे गए आतंकी के पास से एक एके 47 राइफल व दो मैगजीनें बरामद हुई हैं।

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021