जागरण न्यूज नेटवर्क, राजौरी/पुंछ/हीरानगर : पाकिस्तानी सेना को भारतीय चौकियों व रिहायशी क्षेत्रों पर गोलाबारी करना महंगा पड़ा। पाक सेना ने वीरवार को पुंछ के सात सेक्टरों बालाकोट, बलनोई, देगवार, खड़ी करमाड़ा, शाहपुर किरनी, कसबा और गोंतरियां सेक्टर में भारी गोलाबारी की। इसमें सात घर क्षतिग्रस्त हो गए और महिला समेत दो नागरिक गंभीर रूप से घायल हो गए। भारतीय सेना ने भी जवाबी कार्रवाई कर बालाकोट सेक्टर के उस पार पाक सेना की पांच चौकियां पूरी तरह तबाह कर दी। इस कार्रवाई में तीन पाकिस्तानी सैनिक भी मारे गए। इससे पहले बुधवार मध्य रात्रि तक पाकिस्तानी रेंजर्स ने अंतरराष्ट्रीय सीमा पर हीरानगर के मन्यारी व पानसर में गोलाबारी जारी रखी। यहां भी बीएसएफ ने पाक रेंजर्स को करारा जवाब दिया।

पांच अगस्त को जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद से ही पाकिस्तान और उसकी सेना बौखलाई हुई है। कभी हीरानगर सेक्टर में अंतरराष्ट्रीय सीमा तो कभी राजौरी-पुंछ व उड़ी सेक्टर में पाकिस्तान गोलाबारी की आड़ में आतंकियों की घुसपैठ करवाने के प्रयास कर रहा है। दो दिन पहले भी पाक ने बालाकोट सेक्टर में गोलाबारी की थी।

जानकारी के अनुसार, वीरवार सुबह फिर से पाकिस्तानी सेना ने बालाकोट, बलनोई व देगवार सेक्टर में भारी गोलाबारी शुरू कर दी। पाक सेना गोलाबारी की आड़ में आतंकियों के दल को भारतीय क्षेत्र में दाखिल करवाने का प्रयास किया, जिसे सीमा पर सतर्क भारतीय सेना के जवानों ने नाकाम बना दिया। इसी दौरान भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई में पाक सेना की पांच चौकियां तबाह हो गई और कम से कम पाक सेना के तीन सैनिक भी ढेर हो गए। इसके बाद भी पाक सेना ने गोलाबारी बंद नहीं की और देर शाम पुंछ के ही खड़ी करमाड़ा, शाहपुर किरनी, कसबा अरैर गोंतरियां सेक्टर में भी भारी गोलाबारी शुरू कर दी। इसमें 30 वर्षीय शाहिन अख्तर पत्नी महमूद अहमद निवासी गोंतरियां व 80 वर्षीय नूर मुहम्मद पुत्र कामी निवासी निवासी करमाड़ा घायल हो गए। दोनों घायलों को जिला अस्पताल पुंछ में भर्ती करवाया गया है। जिला आयुक्त पुंछ राहुल यादव व अन्य अधिकारियों ने अस्पताल जाकर घायलों का हालचाल जाना और बेहतर उपचार उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने घायलों को रेड क्रास फंड से राहत चेक भी दिए। रात तक पाक सेना रिहायशी क्षेत्रों पर मोर्टार दागती रही। भारतीय सेना की ओर से भी पाक सेना को करारा जवाब दिया जा रहा है।

उधर, कठुआ जिले के हीरानगर में चौबीस घटे की शाति के बाद पाकिस्तान ने बुधवार रात करीब साढ़े दस बजे मन्यारी व पानसर गावों के बीच गोलीबारी की। यह गोलाबारी रात दो बजे तक जारी रही। तहसीलदार सोहनलाल का कहना है कि प्रशासन हालात पर नजर रखे हुए है। सभी नंबरदार उनके संपर्क में हैं। पीडब्ल्यूडी को बंकर निर्माण जल्द पूरे करवाने के लिए कहा गया है। अगर जरूरत पड़ी तो लोगों को सुरक्षित स्थानों पर लाने के भी उचित प्रबंध किए गए हैं। गोलाबारी के बीच स्कूलों से घर पहुंचे बच्चे :

पाकिस्तानी सेना ने दोपहर को जब पुंछ के विभिन्न सेक्टरों में मोर्टार दागे तो उस समय अधिकतर सीमावर्ती स्कूलों में छुट्टी हुई थी। गोलाबारी के बीच ही अभिभावक स्कूल पहुंच गए। गनीमत यह रही कि किसी को नुकसान नहीं पहुंचा और बच्चे सुरक्षित घर पहुंच गए।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप